Advertisement

टीककरण अभियान को लग सकता है झटका, रजिस्टर्ड कर्मी नहीं आ रहे हैं टीका लगवाने

जे.जे समुह में लगभग 7750 स्वास्थ्य कर्मचारियों ने टीकाकरण के लिए पंजीकरण कराया है। लेकिन स्वास्थ्य कार्यकर्ता टीकाकरण के लिए उत्सुक नहीं हैं क्योंकि लोगों के बीच कोवैक्सीन को लेकर कई भ्रांतियां हैं।

टीककरण अभियान को लग सकता है झटका, रजिस्टर्ड कर्मी नहीं आ रहे हैं टीका लगवाने
SHARES

राज्य भर में कोरोना वायरस (cocina virus) का टीकाकरण (vaccination) शुरू हो गया है।कोरोना (covid19) को स्थायी रूप से खत्म करने के लिए यह टीका दिया जा रहा है।हालांकि, स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के मन में इन वैक्सीन को लेकर चिंताएं बढ़ रही हैं, विशेष रूप से, भारत बायोटेक (bharat biotech) द्वारा उत्पादित कोवैक्सीन (covaxine) के बारे में कई नकारात्मक भावनाएं सामने आई हैं। इसीलिए स्वास्थ्य कार्यकर्ता कोवैक्सीन लेने से इनकार कर रहे हैं।

मुंबई के जे.जे. अस्पताल (j.j hospital) में टीकाकरण अभियान को उस समय झटका लगा जब मंगलवार को बहुत ही कम संख्या में स्वास्थ्यकर्मी टीका लगाने के लिए उपस्थित हुए। जे.जे अस्पताल शहर का ऐसा एकमात्र केंद्र हैं, जहां भारत बॉयोटेक की कोवैक्सीन दी जा रही है। मंगलवार को यहां लगभग 100 लोगों के टीकाकरण होने की उम्मीद थी। लेकिन इनमें से केवल 13 स्वास्थ्य कार्यकर्ता ही टीकाकरण के लिए आए थे। वो भी इनमें से सभी अस्पताल के ही कर्मचारी थे।

जे.जे समुह में लगभग 7750 स्वास्थ्य कर्मचारियों ने टीकाकरण के लिए पंजीकरण कराया है। लेकिन स्वास्थ्य कार्यकर्ता टीकाकरण के लिए उत्सुक नहीं हैं क्योंकि लोगों के बीच कोवैक्सीन को लेकर कई भ्रांतियां हैं।

टीकाकरण के पहले दिन, टीका लगाने के लिए वरिष्ठ डॉक्टरों द्वारा पहल करने के कारण उस दिन टीका लगाने वाले लोगों की संख्या 39 तक पहुँच गई। लेकिन मंगलवार को टीकाकरण के लिए पंजीकृत कई लोग अस्पताल ही नहीं आए।

हालांकि जे.जे अस्पताल के जिन कर्मचारियों को कोवैक्सीन का टीका लगाया गया है, उन्हें अब तक किसी भी तरह की कोई असुविधा नहीं हुई है। इसलिए, यह आशा की जाती है कि निकट भविष्य में अधिक कर्मचारी कोवैक्सीन लेने के लिए के आ सकते हैं। 

महाराष्ट्र के औरंगाबाद (aurngabad) में 90 स्वास्थ्यकर्मियों को कोरोना के टीका से रिएक्शन होने की खबर सामने आई है। यहाँ कुल 352 स्वयंसेवकों को टीका लगाया गया था।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें