Advertisement

कम खर्चे में ब्रेन स्ट्रोक का इलाज देगा केईएम अस्पताल

बुधवार को बीएमसी आयुक्त अजॉय मेहता ने एक बाईप्लेन डिजिटल सबस्ट्रेक्शन एंजियोग्राफी (डीएसए) मशीन का उद्घाटन किया जो प्रक्रिया को पूरा करने में मदद करेगा।

कम खर्चे में ब्रेन स्ट्रोक का इलाज देगा केईएम अस्पताल
SHARES

जल्द ही, परेल के केईएम अस्पताल में कम खर्च में ब्रेन स्ट्रोक का इलाज कराया जा सकता है। बुधवार को, केईएम अस्पताल ने शहर में पहली ऐसी सार्वजनिक सुविधा शुरू की। इस सुविधा के शुरु होने के बाद ब्रेन स्ट्रोक के इलाज के लिए आनेवाले खर्च लगभग आधे से भी कम हो जाएगा।


अजॉय मेहता ने किया बाईप्लेन डिजिटल सबस्ट्रेक्शन एंजियोग्राफी (डीएसए) मशीन का उद्घाटन

अपग्रेड की सुविधा के साथ, अस्पताल अब थ्रोम्बेक्टोमी नामक उपचार की भी शुरुआत करेगा , जो धमनी या नस के अंदर से रक्त के थक्के को हटाने की प्रक्रिया है।बुधवार को बीएमसी आयुक्त अजॉय मेहता ने एक बाईप्लेन डिजिटल सबस्ट्रेक्शन एंजियोग्राफी (डीएसए) मशीन का उद्घाटन किया जो प्रक्रिया को पूरा करने में मदद करेगा। अभी तक सुविधा सिर्फ प्राइवेट अस्पतालों में ही दी जाती थी।

क्या है ब्रेन स्ट्रोक
जब मस्तिष्क में ब्लड की आपूर्ति (supply) बाधित हो जाती है या कम हो जाती है तो उस स्थिति को स्ट्रोक की समस्या कहते हैं। स्ट्रोक होने पर मस्तिष्क पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन और पोषक तत्व ग्रहण नहीं कर पाता है जिसके कारण मस्तिष्क की कोशिकाएं नष्ट होने लगती हैं। स्ट्रोक को ब्रेन अटैक (brain attack) भी कहा जाता है। यदि स्ट्रोक की समस्या का समय पर निदान और इलाज न किया जाये तो मस्तिष्क हमेशा के लिए डैमेज हो सकता है जिसके परिणामस्वरूप व्यक्ति की मौत भी हो सकती है।

केईएम डीन डॉ अविनाश सुपे ने कहा कि बीईएल नायर अस्पताल को भी इस तरह की मशीन दी जाएगी।


यह भी पढ़े- कांग्रेस महिला मोर्चा ने नाना पाटेकर के खिलाफ निकाला मोर्चा

संबंधित विषय
Advertisement