मुंबई में स्वाइन फ्लू के 200 मरीजों की हुई पहचान

स्वाइन फ्लू से सबसे अधिक प्रभावित बुजुर्ग, गर्भवती महिला और बच्चे होते हैं ,साथ ही वे लोग जिनकी शारीरिक प्रतिरोधक क्षमता कम होती है।

SHARE

मुंबई में पिछले 5 महीने में स्वाइन फ्लू के लगभग 200 मरीजों की पहचाना हुई है। यही नहीं स्वाइन फ्लू से 2 मरीजों की मौत होने का भी मामला सामने आया है। इसके पहले साल 2016 में मुंबई में स्वाइन फ्लू के सबसे अधिक मरीजों की संख्या में वृद्धि होने का मामला सामने आया था। इसके बाद अब 2019 में फ्लू के मरीजों की संख्या में वृद्धि हुई है।

पढ़ें: राज्य में 1 जनवरी से 24 जनवरी के बीच 11 लोगों ने स्वाइन फ्लू से गंवाई जान

मिली जानकारी में मुताबिक़ स्वाइन फ्लू के मरीजों की संख्या फरवरी महीने में लगभग 40 थी। मार्च में यह संख्या बढ़ कर 85 हो गयी। उसके बाद मई महीने में इस संख्या में कमी आई जो घट कर 29 हो गयी। चौकानें वाली बात यह है कि मार्च महीने में ही इसी बीमारी से 2 लोगों की मौत भी हो गयी थी।  

पढ़ें: महाराष्ट्र में इस साल में स्वाइन फ्लू से 302 मौतें

डॉक्टरों के मुताबिक बारिश के बाद और सर्दियों से पहले वाला जो मौसम होता है उस मौसम में H1N1 के विषाणु अधिक मात्रा में फैलते हैं। साल 2015 में पूरे देश में स्वाइन फ्लू फ़ैल गया था। उस समय मुंबई में मरीजों की संख्या 1815 तक हो गयी थी जिसमें 19 लोगों की मौत हो गयी थी। स्वाइन फ्लू से सबसे अधिक प्रभावित बुजुर्ग, गर्भवती महिला और बच्चे होते हैं ,साथ ही वे लोग जिनकी शारीरिक प्रतिरोधक क्षमता कम होती है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें