स्कूल-कॉलेजों के कैंटीन में जंक फूड बिक्री पर लगेगी रोक

एक अध्ययन के अनुसार भारत के बच्चे लगातार मोटापे का शिकार हो रहे हैं, इसका कारण जंक फ़ूड है जो स्कूल और कॉलेजों के साथ साथ हर कहीं पर सरलता से उपलब्ध रहता है।

SHARE

खाद्य एवं औषधि प्रशासन (FDA) ने निर्णय लिया है कि स्कूल और कॉलेजों के बच्चे मोटापा का शिकार न हो इसके लिए अब स्कूल और कॉलेजों के कैंटीन और आसपास के परिसरों में बिकने वाले जंक फ़ूड पर रोक लगाई जाएगी। यही नहीं जंक फ़ूड के अलावा कम पोषणयुक्त खाद्य पदार्थों की बिक्री पर भी प्रतिबंध लगाए जाएंगे। एक अध्ययन के अनुसार भारत के बच्चे लगातार मोटापे का शिकार हो रहे हैं, इसका कारण जंक फ़ूड है जो स्कूल और कॉलेजों के साथ साथ हर कहीं पर सरलता से उपलब्ध रहता है। 

FDA ने तैयार किया मसौदा

FDA ने बच्चों में बढ़ते मोटापे को रोकने के लिए खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण ने कानून में संशोधन करके एक मसौदा तैयार किया है। मसौदे के अनुसार, स्कूल कॉलेजों के कैंटीन और परिसर में पोषक तत्वों वाले खाद्य पदार्थों की बिक्री को प्रोत्साहित किया जाना चाहिए। कम पोषक तत्व वाले खाद्य पदार्थ के बिक्री पर रोक लगना चाहिए। इसके अलावा स्कूल प्रशासन को सावधान रहना चाहिए कि स्कूल परिसर में जंक फ़ूड वाले खाद्य पदार्थ के ब्रांड नाम और लोगो को प्रचारित नहीं किया जाना चाहिए।

 बच्चों को समुचित पोषक तत्व मिल सके इसीलिए स्कूलों के कैंटीन में खाद्य पदार्थों का एक चार्ट बनाया जायेगा, इस चार्ट के मुताबिक हर दिन एक नया खाद्य पदार्थ बनाया जायेगा। कैंटीन की देखभाल और रखरखाव करने के लिए स्कूल प्रशासन को एक सहायक की नियुक्ति करनी होगी साथ ही FDA ऐसे कैंटीन की जांच कभी भी कर सकेगा। यह नियम सभी प्रकार के स्कूल और कॉलेजों पर लागू होगा।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें