Advertisement
COVID-19 CASES IN MAHARASHTRA
Total:
59,08,992
Recovered:
56,39,271
Deaths:
1,11,104
LATEST COVID-19 INFORMATION  →

Active Cases
Cases in last 1 day
Mumbai
15,773
700
Maharashtra
1,55,588
10,442

कोरोना की दूसरी लहर समाप्ति की ओर, हम फिर भी तैयार: उद्धव ठाकरे

उद्धव ने कहा कि, श्री साईंबाबा ट्रस्ट के ऑक्सीजन उत्पादन परियोजना और आरटीपीसीआर प्रयोगशाला से कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए राज्य सरकार के प्रयासों को मजबूती मिलेगी।

कोरोना की दूसरी लहर समाप्ति की ओर, हम फिर भी तैयार: उद्धव ठाकरे
SHARES

कोरोना (Covid19) की संभावित तीसरी लहर के मद्देनजर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (uddhav thackeray) ने आम लोगों से कहा कि, आपने कोरोना की पहली लहर का सामना किया। और इस समय कोरोना वायरस (Coronavirus) की दूसरी लहर भी समाप्ति के कगार पर है। लेकिन विशेषज्ञों द्वारा तीसरी लहर की संभावना जताई जा रही है। इसके मद्देनजर हमें आवश्यक स्वास्थ्य सुविधाओं से लैस होना चाहिए।

श्री साईबाबा संस्थान ट्रस्ट, शिर्डी संचालित श्री साई बाबा अस्पताल, शिरडी के मेडिकल ऑक्सीजन उत्पादन संयंत्र का लोकार्पण और आरटीपीसीआर प्रयोगशाला कार्यान्वयन परीक्षण समारोह का आयोजन किया गया था, जिसका मुख्यमंत्री द्वारा वीडियो प्रणाली के माध्यम से उद्घाटन किया गया। इसी मौके पर ठाकरे ने लगों को संबोधित किया।

उद्धव ने कहा कि, श्री साईंबाबा ट्रस्ट के ऑक्सीजन उत्पादन परियोजना और आरटीपीसीआर प्रयोगशाला से कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए राज्य सरकार के प्रयासों को मजबूती मिलेगी।

इस प्रोजेक्ट के लिए रिलायंस फाउंडेशन (Rilance foundation) की ओर से अनंत अंबानी और साईं भक्त वी. रमनी की तरफ से भी आर्थिक सहायता प्रदान की गई। साथ ही संस्थान की ओर से ऑक्सीजन का उत्पादन हवा से ऑक्सीजन सोखकर किया जाएगा। इस प्लांट की क्षमता 1200 लीटर प्रति मिनट है जो साईनाथ अस्पताल में 300 बेड तक को ऑक्सीजन सप्लाई करेगी।

लोगों को संबोधित करते हुए उद्धव ने आगे कहा, पहली लहर के बाद, हमने स्वास्थ्य देखभाल को बढ़ाने को प्राथमिकता दी। चूंकि दूसरी लहर की तीव्रता अधिक थी और रोगियों को बड़ी मात्रा में ऑक्सीजन की आवश्यकता थी, इसलिए हमें ऑक्सीजन प्राप्त करने का प्रयास करना पड़ा।  इसलिए राज्य सरकार ने ऐसी ऑक्सीजन उत्पादन परियोजनाओं को बढ़ावा देने का फैसला किया है।

इस मौके उपमुख्यमंत्री अजीत पवार (ajit pawar) भी जुड़े थे।उन्होंने कहा कि, जिस तरह से राज्य ने कोरोना के प्रकोप से निपटा है, उस पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय, राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर और यहां तक कि उच्च न्यायालय ने भी ध्यान दिया है। यदि दूसरी लहर में युवा वर्ग संक्रमित हुए हैं तो तीसरी लहर में छोटे बच्चों के संक्रमित होने की संभावना जताई जा रही है, और हम इससे निपटने की तैयारी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि, कोरोना के खिलाफ इस लड़ाई में जनप्रतिनिधि, पदाधिकारी, अधिकारी, कर्मचारी, स्वास्थ्य कार्यकर्ता, आशा, आंगनबाडी कार्यकर्ता और पुलिस सभी शामिल हैं।

उपस्थित राजस्व मंत्री बालासाहेब थोराट (babasaheb throat) ने भी कहा कि, हम इस कोरोना संक्रमण को रोकने में कामयाब होंगे। जिले में कोरोना मरीजों की संख्या में पहले इजाफा हो रहा था, वह अब कम होती दिख रही है। टेस्ट की संख्या बढ़ाकर संक्रमण को रोकने के प्रयास जारी हैं।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें