Advertisement
COVID-19 CASES IN MAHARASHTRA
Total:
54,05,068
Recovered:
48,74,582
Deaths:
82,486
LATEST COVID-19 INFORMATION  →

Active Cases
Cases in last 1 day
Mumbai
34,288
1,240
Maharashtra
4,45,495
26,616

सभी 227 वॉर्डों में खुलेंगे कोरोना वैक्सीनेशन सेंटर, BMC कर रही है प्लान

चहल ने आगे कहा कि, नए 227 बीएमसी केंद्र खोले जाएंगे, प्रत्येक वार्ड में 18 वर्ष से लेेेकर 44 वर्ष वाले नागरिकों की टीका लगाया जाएगा।

सभी 227 वॉर्डों में खुलेंगे कोरोना वैक्सीनेशन सेंटर, BMC कर रही है प्लान
SHARES

महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra government) जल्द ही टीकाकरण (vaccination) के अगले चरण की शुरुआत कर सकती है। बीएमसी (bmc) के कमिश्नर इकबाल सिंह चहल (iqbal singh chahal) ने कहा है कि, सभी 227 वार्ड में 18 वर्ष से अधिक आयु के नागरिकों के लिए वैक्सीनेशन सेंटर (vaccination center) खोले जाएंगे।

बीएमसी की तरफ से बुधवार, 29 अप्रैल को अपने सभी 227 नगरसेवकों से संपर्क किया, और वे उनसे बनाने की जगह के बारे में जानकारी हासिल की गई।

वर्तमान में मौजूदा 63 सेंटर बीएमसी और सरकारी टीकाकरण केंद्र में 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लोगों के लिए उपलब्ध होंगे।

चहल ने आगे कहा कि, नए 227 बीएमसी केंद्र खोले जाएंगे, प्रत्येक वार्ड में 18 वर्ष से लेेेकर 44 वर्ष वाले नागरिकों की टीका लगाया जाएगा।

वर्तमान में, निजी अस्पतालों में भी 73 टीकाकरण केंद्र हैं, जिन्हें बढ़ाकर 100 किया जाएगा, ताकि 18 साल से ऊपर के सभी नागरिकों का टीकाकरण हो सके।

हालांकि, कॉरपोरेटर्स की तरफ से यह मांग की है कि इन केंद्रों को तभी शुरू किया जाना चाहिए, जब बीएमसी उन्हें टीकों के निश्चित स्टॉक का आश्वासन दे।

सूत्रों के मुताबिक, समाजवादी पार्टी (samajavadi party) के नगरसेवक और विधायक रईस शेख (rais shaikh) ने कहा कि उन्होंने भायखला में क्लेयर रोड पर एक हॉल की पहचान की है, जहां एक टीकाकरण केंद्र शुरू किया जा सकता है।  इसके अलावा, कांग्रेस के नगरसेवक रवि राजा ने कहा कि उन्होंने सायन कोलीवाड़ा में एक स्कूल की पहचान की है।

इस बीच, BMC अधिकारियों ने कहा कि वे स्लम इलाकों में एक हेल्प डेस्क स्थापित करने की योजना बना रहे हैं जहाँ नागरिकों को अपना पंजीकरण कराने में सुविधा होगी।

यहां तक कि जब सेरो सर्वे में स्लम क्षेत्रों में सेरो पाजिटिविटी के अधिक केस सामने आने लगे तो, तो सिविक अधिकारियों ने यह सुनिश्चित किया है कि स्लम क्षेत्रों पर अधिक ध्यान केंद्रित किया जाएगा। बीएमसी अधिकारियों के अनुसार, झुग्गी क्षेत्रों पर ध्यान देना महत्वपूर्ण है क्योंकि वर्तमान वायरस का नया संस्करण तेजी से फैल रहा है।

इसके अलावा, विशेषज्ञों ने यह भी माना है कि घनी आबादी वाली झुग्गियों में कोरोना को फैलने रोकने के लिए टीकाकरण प्राथमिकता के आधार पर किया जाना है।

इससे पहले, महाराष्ट्र के पर्यावरण और पर्यटन मंत्री, आदित्य ठाकरे (aditya thackeray) ने टीकाकरण प्रक्रिया को तेज करने के लिए मुंबई में सभी 227 चुनावी वार्डों में टीकाकरण केंद्र स्थापित करने का आह्वान किया था।

Read this story in मराठी or English
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें