22 साल पहले बांधे गए पुल का संसोधन कैसे करें- चंद्रकांत पाटील

 Mumbai
22 साल पहले बांधे गए पुल का संसोधन कैसे करें- चंद्रकांत पाटील

अमर महल पुल के बारे में बोलते हुए चंद्रकांत पाटील ने कहा कि 22 साल पहले बने पुल के बार में वह क्या बोल सकते हैं। वह कैसे बता सकते है की पुल बनाने के लिए किस तरह के सामानों का इस्तेमाल कितनी मात्रा में किया गया। सावित्री पुल दुर्घटना के बाद राज्य के सारे पुलों के स्ट्रक्चर को ऑडिट किया गया था।
चेंबूर के अमर महल पुल पर जानकारी देने के लिए आयोजित पत्रकार परिषद में चंद्रकांत पाटील ने इस बात की जानकारी दी। 6 अप्रैल को अमर महल पुल के स्क्रू निकल गया था। इस पुल को एक सहारे की जरुरत से खड़ा किया था। लेकिन इस प्रस्ताव को अमान्य किया गया और नये पुल को बनाने के लिए कहा गया है। नया पुल 4 महीनों में पूरा होगा।

अंतरराष्ट्रीय कंपनी ने अगर अपना इंट्रेस्ट दिखाया तो यह काम दो महीनें में पूरा किया जा सकता है। पुल बनाने के लिए लगने वाले ब्लॉक्स, रास्ते अलग-अलग ठिकानों से अमर महल पुल पर लाकर रखे जा रहे हैं। अमर महल पुल के बारे में बोलते हुए चंद्रकांत पाटील ने कहा की पुल को बनाने वाली कंपनी ने 5 साल की गारंटी दी थी, जो बहुत पहले ही खत्म हो गई थी। कंपनी पर कार्रवाई करने का सवाल ही नही पैदा होता। नए तकनीक का इस्तेमाल कर जल्द से जल्द पुल का कार्य पूरा कर लिया जाएगा।

Loading Comments