ट्रांस हार्बर लिंक पर टोल वसुलेगी MMRDA

MMRDA ने ट्रांस हार्बर लिंक परियोजना को 2022 तक पूरा करने और जनता के लिए खोलने का अनुमान लगाया है।

SHARE

मुंबई मेट्रोपॉलिटन रीजन डेवलपमेंट अथॉरिटी (MMRDA) ने ऑपरेशनल हो जाने के बाद मुंबई ट्रांस हार्बर लिंक (MTHL) पर टोल वसूलने का फैसला किया है। एमएमआरडीए टोल संग्रह को एक निजी फर्म को आउटसोर्स करने के बजाय प्राधिकरण खुद टोल नाके का संचालन करेगा। विकास प्राधिकरण केवल निजी फर्मों को पुलों का रखरखाव देगा।

MMRDA ने ट्रांस हार्बर लिंक परियोजना को 2022 तक पूरा करने और जनता के लिए खोलने का अनुमान लगाया है। जिसके बाद इसपर लगी लागत और इसकी रखरखाव के लिए 23 साल तक टोल लगाने का फैसला भी किया गया है। खबरों के अनुसार प्राधिकरण हल्के मोटर वाहनों से 175 रुपये, हल्के कॉर्मिशियल वाहनों के लिए 265 रुपये, ट्रकों और बसों के लिए 525 रुपये, मल्टी-एक्सल बसों के लिए 790 रुपये का शुल्क ले सकता है। इस टोल को दो तरीकों से इकट्ठा किया जाएगा- इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन और मैनुअल नकद में भुगतान ।

इसके साथ ही ट्रांस हार्बर सड़क की दोनों ओर सीसीटीवी लगाी जाएगी, जिससे यात्रियों की सुरक्षा को और भी पुख्ता किया जा सके। इसके अलावा, जानकारी ट्रैफिक कंट्रोल रूम को भी दी जाएगी। इस परियोजना के लिए अनुमानित लागत 22,000 करोड़ रुपये है। यह लिंक नवी मुंबई और प्रस्तावित अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे को सीधे जोड़ेगा।


यह भी पढ़ेMMRDA के प्रभारी अतिरिक्त महानगर आयुक्त प्रवीण दराडे का ट्रांसफर


संबंधित विषय