झोपडपट्टी पुनर्वसन प्राधिकरण की लेट-लतीफी

 Pali Hill
झोपडपट्टी पुनर्वसन प्राधिकरण की लेट-लतीफी

मुंबई - झोपडपट्टी पुनर्वसन योजना के लागू हुए बीस वर्ष होने के बाद भी झोपडपट्टी पुनर्वसन योजना का क्रियान्वयन नहीं होने के चलते सीएम देवेंद्र फडणवीस ने 2014 में पांच बड़े ट्रस्टों की जमीन पर कब्जा लेने का आदेश झोपडपट्टी पुनर्वसन प्राधिकरण को दिया था। इस आदेश को दो साल हो गए लेकिन अभी तक किसी भी ट्रस्ट की जमीन पर प्राधिकरण ने कब्जा नहीं लिया है। झोपडपट्टी पुनर्वसन योजना में लेट लतीफी करने वाले ट्रस्ट मालिका के लिए यह आदेश एक बड़ा झटका माना जा रहा था लेकिन इसमें प्राधिकरण की देरी के चलते सरकार ने नाराजगी भी व्यक्त की। एफ. ई. दिनाशा, वी. के. लाल, सर मोहम्मद युसूफ खोत. ए. एच. वाडीया और जे जे. भॉय इन पांच ट्रस्टों का इसमें समावेश है। इसके अलावा इसमें तीन और प्राइवेट ट्रस्टों को शामिल किया गया है। झोपु प्राधिकरण के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि तकनीकी पहलुओं के चलते इसमें देरी हो रही है।

Loading Comments