मेट्रो के लिए प्रोटो का पहला डिब्बा मुंबई पहुंचा

बैंगलुरु के फैक्ट्री में 500 डिब्बों का निर्माण हो रहा है।

SHARE

मेट्रो 2 और 7 कॉरिडोर पर दौड़ने वाला मेट्रो का पहला डिब्बा ( प्रोटो) मुंबई पहुंच गया है। मेक इन इंडिया मुहिम के तहत मेट्रो के इन दो कॉरिडोर के लिए बेंगलुरु इन डिब्बों का निर्माण किया गया है।  बैंगलुरे के फैक्ट्री में   500 डिब्बों का निर्माण हो रहा है। इस योजना का पहला डिब्बा सोमवार को मुंबई पहुंचा। मेट्रो 2 और 7 कॉरिडोर के के निर्माण का काम अंतिम चरण में है। 

मुंबई महानगर प्रदेश विकास प्राधिकरण (एमएमआरडीए) ने साल  2020 तक इन मेट्रो मार्ग को शुरु करने का लक्ष्य रखा है।   इस मेट्रो के पहले डिब्बे को MMRDA ग्राउंड में रखा जाएगा। डिब्बे के मुंबई पहुंचने पर एमएमआरडीए कर्मियों द्वारा इसकी पूजा की गई, इस दौरान एमएमआरडीए आयुक्त आर.. राजीव भी मौजूद थे।MMRDA ने मेट्रो 2 , मेट्रो ब और मेट्रो 7 के लिए 378 डिब्बों के निर्माण का जिम्मा बीईएमएल कंपनी को सौंपा है। इसके लिए एमएमआरडीए ने कंपनी के साथ 3015 करोड़ रुपये का करार किया है। 

क्या है डिब्बे का खासियत

अत्याधुनिक सुविधा वाले छह डिब्बों की मेट्रो में एक साथ 2092 यात्री सफर कर सकते हैं। सभी डिब्बों में चालक और यात्री के बीच सीधा संपर्क स्थापित करने के लिए विशेष यंत्र लगाए जाएंगे।यात्रियों की सुरक्षा के लिए सभी डिब्बों में सीसीटीवी की भी व्यवस्था की गई है। डिब्बों के निर्माण में 3.20 मीटर चौडे स्टेनलेस स्टील का इस्तेमाल किया जा रहा है। 

यह भी पढ़ेCSMT स्टेशन को 'सर्वश्रेष्ठ स्वच्छ भारत प्रतिष्ठित स्थान' से किया गया सम्मानित

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें