14 नवंबर को नहीं , 20 नवंबर को पहले मनाते थे बाल दिवस !

Mumbai
14 नवंबर को नहीं , 20 नवंबर को पहले मनाते थे बाल दिवस !
14 नवंबर को नहीं , 20 नवंबर को पहले मनाते थे बाल दिवस !
14 नवंबर को नहीं , 20 नवंबर को पहले मनाते थे बाल दिवस !
See all
मुंबई  -  

भारत में हर साल 14 नवंबर को बाल दिवस के रुप में मनाया जाता है। 14 नवंबर को पंडित जवाहरलाल नेहरू को श्रद्धांजलि देने के लिए इस दिन को बाल दिवस के रुप में मनाने का ऐलान किय़ा गया। पंडित जवाहरलाल नेहरू को चाचा नेहरु के नाम से भी जाना जाता था। जवाहरलाल नेहरू को बच्चों से काफी लगाव था। बच्चों से इसी प्रेम के कारण 14 नवंबर, 1889 को जन्मे पंडित जवाहरलाल नेहरु की जयंती के उपलक्ष्य में 14 नवंबर 1964 के बाद से इस दिन को बाल दिवस के रुप में मनाया जाता है।


27 मई 1964 को हुआ नेहरु जी की मृत्यु
दरअसल 14 नवंबर, 1889 को जन्मे पंडित जवाहरलाल नेहरु की मृत्यु 27 मई 1964 में हुई थी। जिसके बाद से पंडित जवाहरलाल नेहरु को श्रद्धांजली देने के लिए 14 नवंबर यानी की उनके जयंती के दिन को बाल दिवस के रुप में मनाया जाने लगा। लेकिन 1964 के पहले बाल दिवस किसी और ही दिन को मनाया जाता था। 


1964 के पहले 20 नवंबर तो मनाया जाता था बाल दिवस
क्या आपको पता है की 1964 के पहले 20 नवंबर को बाल दिवस के रुप में मनाया जाता था। संयुक्त राष्ट्र ने 20 नवंबर को बाल दिवस के रुप मनाने की घोषणी की थी, लेकिन पंडित जवाहरलाल नेहरु के निधन के बाद देश में 14 नवंबर को बाल दिवस के रुप में मनाने की घोषणा की गई।

Loading Comments

संबंधित ख़बरें

© 2018 MumbaiLive. All Rights Reserved.