गोवा की तरह महाराष्ट्र के बीचों पर भी मिल सकती है शराब


SHARE

राज्य सरकार ने पर्यटन स्थल के रूप में राज्य की 720 किमी तटीय समुद्र इलाको को बढ़ावा देने के लिए एक निती के साथ आ रही है। जो अगर लागू हुआ तो गोवा की तरह राज्य के भी समुंद्री तटों पर आप समुद्री भोजन और शराब का आनंद ले सकते हैं। हालांकी हुक्का को अनुमति नहीं दी जाएगी । हालांकी इसके साथ ही राज्य सरकार ने भी सुरक्षा के कई पुख्ता इंतजाम के बारे में भी कई योजनाए बनाई है।

">

टाईम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के मुताबिक पहले राज्य सरकार समुद्री तटों पर शराब बेचने को लेकर दुविधा में थी लेकिन आबकारी विभाग की अनुमति के बाद राज्य सरकार इस पर राजी हो गई। अगर यह प्रस्ताव अमली जामा पहनता है तो राज्य सरकार इसके लिए सुरक्षा के भी पुख्ता इंताजाम करेंगी।

सरकार बीचों पर पर्यटको की सुरक्षा के लिए सीसीटीवी के साथ साथ एक स्पेशल दस्ते का गठन करेंगी। इस दस्ते में नियुक्त अधिकारियों को गैरकानूनी ढांचे को ध्वस्त करने और लाइसेंस रद्द करने के साथ साथ सीसीटीवी निगरानी प्रणाली का भी अधिकार होगा। इसके अलावा, किसी भी विदेशी को शॉक्स में काम करने की अनुमति नहीं दी जाएगी, भले ही उनके पास वर्क वीजा हो।

सह शैक्स सूबह 7.30 बजे से रात 11 बजे तक कार्य करेंगे और संगीत की ध्वनि पर भी मर्यादा होगी। 10 बजे के बाद किसी भी तरह का कोई भी जोरदार संगीत नहीं बजाया जाएगा। यह शैक्स सितंबर से मई महिने तक चलेंगे।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें