डेंटल क्षेत्र में नई क्रांती

माहिम - दांतो की समस्या से तो हर कोई परेशान है । और अगर जब दांत टुटने लगते है तो फिर मुशीबत बढ़ना तय है। आप चाहे कितने भी कृत्रिम इलाज करा ले लेकिन असली दांत तो असली दांत ही होते है उनका टक्कर कहा। लेकिन अब आप अपने खो चुके असली दांतों को फिर से पा सकते है। स्काय इम्प्लिमेंट सिस्टम नाम की इस तकनीक को एक जर्मन कंपनी ने भारत में लाया है। डॉ. दिलीप देशपांडे ने माहिम के अपने डेंटल क्लिनिक में इस तकनीक का सफल प्रयोग किया। साथ ही स्काय इम्प्लांट के दो प्रतिनिधियों ने डॉक्टरों को इस तकनीक के बारे में प्रशिक्षित भी किया। टीथ इम्प्लांट करने के बाद मरीज को कम से कम खर्च आए और उसे ज्यादा तकलीफ ना हो इस बात का भी ध्यान कंपनी ने रखा है। मरीजों को ध्यान में रखकर बनाी गई इस तकनीक के कारण ना ही सिर्फ मरीज को अच्छी क्वालिटी की दांत मिलेगी बल्की इसका खर्च भी जेब पर भारी नहीं पड़ेगा।

Loading Comments