विश्व संगीत दिवस विशेष- इंजीनियर और वकालत के जैसे अब संगीत में भी करियर तलाश रहे युवा

 Mumbai
विश्व संगीत दिवस विशेष- इंजीनियर और वकालत के जैसे अब संगीत में भी करियर तलाश रहे युवा

हर साल 21 जून को विश्व संगीत दिवस के रुप में मनाया जाता है। संगीत की विभिन्न खूबियों की वजह से ही विश्व में संगीत के नाम एक दिन है। यह संगीतज्ञों व संगीत प्रेमियों के लिए बहुत ही खुशी की बात है। विश्व संगीत दिवस को ‘फेटे डी ला म्यूजिक’ (Fête de la Musique) के नाम से भी जाना जाता है। इसका अर्थ म्यूजिक फेस्टिवल है। इसकी शुरुआत 1982 में फ्रांस में हुई।

भारत में पिछलें कुछ समय से भारतीय संगीत के साथ पश्चिम संगीत का भी असर बढ़ता जा रहा है। रैप संगीत ने युवाओ को अपनी ओर आकर्षित किया है।

युवाओं में अब संगीत का क्रेज भी बढ़ता जा रहा है। जहां पहले युवा आईएस, इंजिनियरिंग और वकालत जैसे पेशो में जाना पसंद करते थे , तो वही अब धीरे धीरे युवाओं में संगीत के प्रती भी लगाव बढ़ताजा रहा है। कई युवाओ के लिए संगीत ही उनका करियर है।

आज हम आपको बताने जा रहे है कुछ ऐसे कोर्सेस जहां पर आप संगीत की शिक्षा ले सकते है, और साथ ही संगीत की हर बारिकियों को भी सिख सकते है।
वैसे तो एक संगीतकार बनने के लिए कोई कौर्स खास कोर्स नहीं करना पड़ता फिर भी म्यूजिक की थोड़ी समझ होना आपकी लिए काफी अच्छा साबित हो सकता है।

दसवीं के बाद म्यूजिक कोर्स
संगीत में प्रमाण पत्र
संगीत में डिप्लोमा
सर्टिफ़िकेट इन इंस्ट्रूमेंट

बारहवीं के बाद म्यूजिक कौर्स
बैचलर ऑफ म्यूसिक (बी म्यूजिक)
संगीत में बीए
बीए (माननीय) संगीत
बीए (माननीय) शास्त्रीय संगीत, शास्त्रीय संगीत

ग्रेजुएशन के बाद म्यूजिक कोर्स
मास्टर ऑफ म्यूजिक (एम। म्यूज़िक)
संगीत में एमए
एम. फिल संगीत
पोस्ट ग्रेजुएशन के बाद म्यूजिक कौर्स
संगीत में पीएचडी

डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दे) 


Loading Comments