वेट एंड वॉच की स्थिती में बीजेपी

सोमवार शाम को जहां एक ओर शिवसेना के संजय राउत और रामदास कदम ने राज्यपाल से मुलाकात की तो वही दूसरी ओर बीजेपी अभी फिलहाल वेट एंड व़ॉच की स्थिती में दिख रही है।

SHARE

राज्य में विधानसभा चुनाव के परिणाम आने के 10 दिने के बाद भी अभी तक राज्य में सत्ता स्थापना नहीं हुई है। चुनावों में बीजेपी शिवसेना के गठबंधन को बहुमत मिला है लेकिन शिवसेना मुख्यमंत्री पद के लिए बराबर की साझेदारी मांग रही है। तो वही दूसरी ओर बीजेपी ने साफ किया है की मुख्यमंत्री के पद पर किसी तरह की कोई भी साझेदारी नहीं होगी।  सोमवार शाम को जहां एक ओर शिवसेना के संजय राउत और रामदास कदम ने राज्यपाल से मुलाकात की तो वही दूसरी ओर बीजेपी अभी फिलहाल वेट एंड व़ॉच की स्थिती में दिख रही है।  


एनसीपी ने भी नहीं खोले पत्ते

बीजेपी शिवसेना में आपसी तनाव कम होता नही दिख रहा है तो वही दूसरी ओर शिवसेना को समर्थन देने के लिए महाराष्ट्र कांग्रेस नेताओं की बैठक दिल्ली में कांग्रेस कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी से हुई। महाराष्ट्र कांग्रेस के नेताओ ने सोनिया गांधी के साथ एक के बाद एक कई बैठक की और शिवसेना को समर्थन देने का प्रस्ताव भी रखा। हालांकी अभी तक यह पूरी तरह से साफ नहीं हो पाया है की क्या एनसीपी शिवसेना को अपना समर्थन देगी।  


शिवसेना झूकने को तैयार नहीं

शिवसेना के प्रवक्ता संजय राउत ने कहा, 'शिवसेना ने ठान लिया तो बहुमत मिल ही जाएगा। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में अगला मुख्यमंत्री शिवसेना का ही होगा। शिवसेना-भाजपा में चुनाव से पहले जो हुई थी उसी पर भाजपा आगे बढ़े। महाराष्ट्र को एक स्थिर सरकार चाहिए। महाराष्ट्र के लोगों ने 50-50 फार्मूले के आधार पर सरकार बनाने का जनादेश दिया है। वह शिवसेना का मुख्यमंत्री चाहते हैं।'

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें