Advertisement

मुंबई: हीरामणि तिवारी मारपीट मामलें में 5 लोगों पर केस दर्ज

मामला तब और बढ़ गया पीड़ित तिवारी को पुलिस ने आपत्तिजनक पोस्ट करने के आरोप में नोटिस थमा दी। इसके बाद जब बीजेपी नेता किरीट सोमैया नेपीड़ित परिवार से मुलाकात की और आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने की मांग की।

मुंबई: हीरामणि तिवारी मारपीट मामलें में 5 लोगों पर केस दर्ज
SHARES

 

वडाला में रहने वाले हीरामणि तिवारी वाले मामले में पुलिस ने 5 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। इस मामले में स्थानीय बीजेपी विधायक कैप्टन आर. तमिल सेल्वन ने मंगलवार को महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात कर उनसे हस्तक्षेप करने की मांग की थी। यही नहीं बीजेपी के पूर्व सांसद किरीट सोमैया ने भी जांच वडाला के टीटी पुलिस स्टेशन जाकर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की थी। आपको बता दें कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को लेकर 'आपत्तिजनक' सोशल मीडिया पोस्ट करने पर हीरामणि तिवारी के साथ शिव सेना के कुछ कार्यकर्ताओं ने पीटा और उनका जबरन सिर मुंडवा दिया था।

शिव सेना के कार्यकर्ताओं ने इस मारपीट का एक वीडियो भी बनाया था, जो वायरल हो गया था। इस वीडियो के वायरल होने के बाद से ही कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी की मांग के स्वर मुखर होने लगे थे, साथ ही कानून व्यवस्था पर ही सवाल उठने लगे थे।


मामला तब और बढ़ गया पीड़ित तिवारी को पुलिस ने आपत्तिजनक पोस्ट करने के आरोप में नोटिस थमा दी। इसके बाद जब बीजेपी नेता किरीट सोमैया नेपीड़ित परिवार से मुलाकात की और आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने की मांग की।

 मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार मंगलवार को ही स्थानीय बीजेपी के विधायक कैप्टन आर. तमिल सेलवन  के नेतृत्व में बीजेपी के एक प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल से मुलाकात की और उनसे इस पिटाई के मामले की जांच एक उच्च स्तरीय समिति से कराने में  की मांग की थी। इसके बाद पुलिस ने इस मामले में 5 आरोपियों के केस केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

आपको बता दें कि सीएम उद्धव ठाकरे के खिलाफ ‘आपत्तिजनक’ टिपप्णी करने पर कथित तौर पर शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने हीरमणी तिवारी की पिटाई की थी और उसके सिर के बाल काट दिए थे। तिवारी ने उद्धव ठाकरे के उस बयान पर टिप्पणी की थी जिसमें उद्धव ने संशोधित नागरिकता कानून का विरोध करने वाले जामिया मीलिया इस्लामिया के छात्रों पर पुलिस कार्रवाई की तुलना 1919 के जलियांवाला बाग कांड से की थी।

पढ़ें: उद्धव ठाकरे के खिलाफ फेसबुक पर किया पोस्ट, शिव सेना के लोगों ने किया ऐसा हाल

संबंधित विषय
Advertisement