विधान परिषद चुनाव : हो सकती है क्रॉस वोटिंग?


SHARE

आने वाले 7 दिसंबर को विधान परिषद का चुनाव हने वाला है। इस चुनाव में बीजेपी और कांग्रेस ने अपने उम्मीदवार तय कर दिए हैं। बीजेपी से जहां प्रसाद लाड की उम्मीदवारी तय हुई है तो कांग्रेस ने दिलीप माने को मैदान में उतारा है।

हो सकती है क्रॉस वोटिंग 

बीजेपी को शिवसेना तो कांग्रेस को एनसीपी सपोर्ट कर रही है। संख्या बल के आधार पर देखा जाए तो बीजेपी और शिवसेना आगे है लेकिन दिलीप माने ने अभी हाल ही में एक बयान दिया था कि 'राजनीती में कभी भी कुछ भी हो सकता है'। माने के इस बयान से लोग यह आशय निकाल रहे हैं कि इस चुनाव में क्रॉस वोटिंग भी हो सकती है।

बीजेपी आगे 

आंकड़ों के हिसाब से बीजेपी के 122 तो शिवसेना के 63 वोटो के आधार पर प्रसाद की जीत तय मानी जा रही है क्योंकि दोंनो पार्टियों के वोटो का योग 185 है जबकि जीत का मैजिकल नंबर 145 वोट है। माना तो यह भी जा रहा है कि लाड अपने बलबूते विरोधियों के कम से कम 20 वोट तो हासिल ही कर सकते हैं।

कांग्रेस पीछे 

कांग्रेस हर मामले में बीजेपी से पीछे नजर आ रही है। कांग्रेस के 42 और एनसीपी के 41 वोटो को मिलकर भी कुल 83 वोट ही होते हैं, यानी मैजिकल नंबर 145 से बहुत पीछे। अब 83 वोट में भी कुछ वोट काम होने की आशंका व्यक्त की जा रही है।

कांग्रेस और एनसीपी के नाराज विधायक 

पहले तो कांग्रेस छोड़ कर अलग पार्टी बनाने वाले नारायण राणे के बेटे नितेश राणे को भी लेकर आशंका है। नितेश और उनके समर्थक विधायक कालिदास कोलंबकर कांग्रेस को वोट देंगे यह स्पष्ट नहीं है। दूसरे एनसीपी से निकाले गए विधायक रमेश कदम का मत भी बीजेपी में जा सकता है।  

विधानसभा में पार्टियों की स्थिति

भाजपा - 122

शिवसेना- 63

काॅग्रेस- 42

राष्ट्रवादी- 41

शेकाप- 3

बविआ- 3

एमआइएम - 2

निर्दलीय - 7

सपा- 1

मनसे- 1

रासपा- 1

कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया - 1

चुनाव गुरुवार 7 दिसंबर को  सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक चलेगा। वोटो की गिनती 5 बजे से शुरू होगी।









संबंधित विषय
ताजा ख़बरें