राम मंदिर पर शिवसेना-बीजेपी में तकरार

मुंबई - रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने गुरुवार को मायानगरी मुंबई के जोगेश्वरी और गोरेगांव के बीच में स्थित ओशिविरा में एक नए रेलवे स्टेशन ‘राम मंदिर’ का उद्घाटन किया। इस स्टेशन के बनने से जहां स्थानीय लोगों को राहत मिली है, वहीं इसके नाम को लेकर विवाद शुरू हो गया है। मुंबई के जोगेश्वरी और गोरेगांव के बीच पश्चिमी रेलवे रुट पर ओशिवारा में एक रेलवे स्टेशन की मांग की जा रही थी। हालांकि इस स्टेशन का नाम राममंदिर रखे जाने के बाद सियासत तेज हो गई है। शिवसेना जहां बीजेपी पर वोट की राजनीति करने का आरोप लगा रही है, वहीं बीजेपी ने कहा है कि इसे राजनीतिक मुद्धा बनाने की कोशिश न की जाए। स्टेशन के उद्घाटन के मौके पर दोनों पार्टियों के कार्यकर्ताओं में जमकर चढ़ा-चढ़ी देखी गई। दोनों ही पार्टियों के कार्यकर्ता इसका श्रेय अपनी पार्टी को देने की कोशिश करते दिखे। कार्यक्रम में दोनों पार्टियों के कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा काटा। कभी झंडे को लेकर हंगामा हुआ तो कभी नारेबाजी को लेकर। यहां तक की सुरेश प्रभु को भी भाषण आधा छोड़कर लोगों को शांत कराना पड़ा। वहीं परिवहन मंत्री दिवाकर रावते ने कार्यकर्ताओं को कड़ी फटकार लगाते हुए कहा कि यह मोदी की सभा नहीं बल्कि राममंदिर का उद्घाटन है इसलिए मोदी के नाम के नारे शनिवार को उनके कार्यक्रम में लगाएं। मोदी भगवान राम से बड़े नहीं हैं।

Loading Comments