Coronavirus cases in Maharashtra: 279Mumbai: 97Pune: 33Islampur Sangli: 25Nagpur: 16Pimpri Chinchwad: 12Kalyan-Dombivali: 6Ahmednagar: 5Thane: 5Navi Mumbai: 4Yavatmal: 4Vasai-Virar: 4Buldhana: 3Satara: 2Panvel: 2Kolhapur: 2Ulhasnagar: 1Aurangabad: 1Ratnagiri: 1Sindudurga: 1Pune Gramin: 1Godiya: 1Jalgoan: 1Palghar: 1Nashik: 1Gujrat Citizen in Maharashtra: 1Total Deaths: 10Total Discharged: 39BMC Helpline Number:1916State Helpline Number:022-22694725

राजनीतिक विरोधियों के 'एनकाउंटर' को तैयार प्रदीप शर्मा

प्रदीप शर्मा के नाम 150 से भी अधिक एनकाउंटर दर्ज हैं, इसमें लश्कर-ए-तैयबा के तीन खूंखार आतंकवादी भी शामिल हैं। फिल्म 'अब तक 56' उनकी ही जीवनी पर बनी है।

राजनीतिक विरोधियों के 'एनकाउंटर' को तैयार प्रदीप शर्मा
SHARE

एनकाउंटर स्पेशलिस्ट  प्रदीप शर्मा का इस्तीफा मंजूर कर लिया गया है, जिसके बाद उम्मीद जताई जा रही है कि वो अब राजनितिक अखाड़े में खुलकर उतरेंगे। अभी दो बातों को लेकर सस्पेंस बरक़रार है कि वे चुनाव कहाँ से लड़ेंगे और किस पार्टी के टिकट पर ताल ठोकेंगे। मुम्बई के अलावा माना जा रहा है कि वे शिवसेना या भाजपा के टिकट पर नालासोपारा विधानसभा से चुनाव लड़ सकते हैं, अगर ऐसा होता है तो यहाँ पर मुकाबला बहुत ही दिलचस्प हो जायेगा, क्योंकि अभी तक वसई विरार महानगरपालिका की सत्ता के अलावा यहाँ की दोनों विधानसभा सीटों वसई और नालासोपारा पर यहाँ की स्थानीय पार्टी बहुजन विकास अघाड़ी का कब्जा है। जहाँ वसई की सीट पर बहुजन विकास अघाड़ी के मुखिया हितेंद्र ठाकुर काबिज हैं वही नालासोपारा की सीट उनके बेटे  क्षितिज ठाकुर के पास है। इसके अलावा पालघर जिले की बोइसर सीट भी इसी पार्टी के पास थी जहाँ से विधायक विलास तरे ने हाल ही में बहुजन विकास अघाड़ी को छोड़कर शिवसेना का दामन लिया था। अब दूसरा झटका प्रदीप शर्मा ने दिया हैं, उनके नालासोपारा से चुनाव लड़ने की अटकलों ने बहुजन विकास अघाड़ी के नेताओं की नींद हराम कर रखी है, क्योंकि पिछले कई बार से इस सीट पर उनका एक छत्र राज चला आ रहा है किसी भी पार्टी के पास कोई तगड़ा उम्मीदवार नहीं था जो इनकी सत्ता को चुनौती दे सके, लेकिन प्रदीप शर्मा के चुनाव मैदान में उतरने से मुकाबला कांटे का हो गया है। 

उत्तर भारतीय मतदाताओं का पूरा समर्थन
यहाँ पर जहाँ प्रदीप शर्मा को उत्तर भारतीय मतदाताओं का पूरा समर्थन मिलने की बात कही जा रही है वहीँ माना जा रहा है कि ज्यादातर गुजराती और मराठी वोटर्स भी भाजपा और शिवसेना को ही वोट करेंगे, यहाँ का ईसाई समुदाय पहले से ही बहुजन विकास अघाड़ी से दूर है ऐसे में पूरी संभावना है कि उसका समर्थन भी प्रदीप शर्मा को ही मिलेगा। कुल मिलाकर कहा जाये तो अगर प्रदीप शर्मा यहाँ से चुनाव लड़ते हैं तो ये सीट हाई प्रोफाइल सीट हो जायेगी, और मुकाबला और भी दिलचस्प हो जायेगा।

जनसंपर्क तेज करने का निर्देश
प्रदीप शर्मा का इस्तीफा मंजूर होते ही उन्होंने नालासोपारा के नेताओं से भी मुलाकात और चर्चा भी शुरू कर दी है, प्रदीप शर्मा से मुलाकात करके लौटे नालासोपारा वार्ड 81 के भाजपा अध्यक्ष राजुचंद्रबली यादव ने बताया कि उन्हें यहाँ पर तैयारी जोरशोर से शुरू करने को कहा गया है, साथ ही मतदाताओं के साथ जनसंपर्क स्थापित करने और कार्यकर्ताओ को चुनाव प्रचार प्रसार के लिए तैयार रहने को भी कहा गया है।

राजनीतिक विरोधियों का करेंगे 'एनकाउंटर'  
वैसे तो नालासोपारा में बहुजन विकास अघाड़ी के तिलिस्म को तोड़ना आसान नहीं होगा क्योंकि उनके बाहुबल और धनबल के आगे कोई टिक नहीं पाता लेकिन प्रदीप शर्मा वो शख्सियत हैं जिन्होंने जब  मुंबई में कदम रखा, तब अंडरवर्ल्ड अपने चरम पर था। दाऊद इब्राहिम, छोटा राजन जैसे नामी अपराधी पुलिस की हिट लिस्ट में थे। शर्मा ने आते ही अंडरवर्ल्ड पर अपनी नजरें टेढ़ी करनी शुरू कर दी और नामी बदमाशों का एनकाउंटर किया। इसके बाद मुंबई में उनका नाम गूंजने लगा। प्रदीप शर्मा के नाम 150 से भी अधिक एनकाउंटर दर्ज हैं, इसमें लश्कर-ए-तैयबा के तीन खूंखार आतंकवादी भी शामिल हैं। फिल्म 'अब तक 56' उनकी ही जीवनी पर बनी है। इसमें नाना पाटेकर ने मुख्य किरदार निभाया था। प्रदीप शर्मा की लाइफ पर 'रेगे' नाम की मराठी फिल्म भी बन चुकी है। जिससे उनकी लोकप्रियता का अंदाजा लगाया जा सकता हैै।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें