मुंबई ने वंशवाद को कहा 'यस'

 Mumbai
मुंबई ने वंशवाद को कहा 'यस'

मुंबई - कई भाजपा नेताओं ने बीएमसी चुनाव में उनके रिश्तेदारों के लिए पार्टी का टिकट हासिल करने में सफलता पाई। कहीं नेताओं के रिश्तेदारों को बीएमसी चुनाव में हार का सामना करना पड़ा तो वहीं कहीं लोगों ने नेताओं के रिश्तेदारों को जमकर वोट किया।

भाजपा सांसद किरीट सोमैया ने वॉर्ड नंबर 108 से बीएमसी चुनाव के लिए अपने बेटे नील के लिए टिकट हासिल किया था, जो विजयी हुए। वॉर्ड नंबर 50 से राज्यमंत्री विद्या ठाकुर ने अपने बेटे दीपक ठाकुर को चुनावी मैदान में उतारा था। वो भी विजयी हुए। वॉर्ड 221 से विधायक राज पुरोहित ने अपने बेटे आकाश पुरोहित को चुनावी मैदान में उतारा था, जनता ने उन्हें भी विजयी बनाया।

युवा सेना प्रमुख आदित्य ठाकरे ने व्यक्तिगत रूप से इस वॉर्ड में एक जनसभा को संबोधित किया था। बावजूद इसके नील इस वार्ड में शिवसेना के उम्मीदवार मुकेश करिया को पराजित करने में सफल रहे।
बीजेपी उम्मीदवार दीपक ठाकुर ने कांग्रेस उम्मीदवार स्नेहा झगडे को मात दी। आकाश पुरोहित ने कांग्रेस उम्मीदवार जनक संघवी को पराजित किया। जबकि पूर्व विधायक अशोक जाधव की बेटी अल्पा जाधव भी विजयी हुई तो वही भाजपा विधायक अमित साटम के पत्नी के भाई रोहन राठौड़ ने भी चुनाव जीता।
एनसीपी प्रवक्ता नवाब मलिक ने अपने भाई, बहन और बेटी के लिए पार्टी का टिकट हासिल किया था। मलिक की बेटी साना मलिक को हार का सामना करना पड़ा तो वहीं भाई कप्तान मलिक और बहन डॉ साईदा खान विजयी हुए।

Loading Comments