मुंबई में माफियाओं द्वारा बनाये जा रहे हैं फर्जी वोटर्स- संजय निरुपम

कांग्रेस अध्यक्ष के मुताबिक 31 जनवरी को मतदाता सूची का ड्राफ्ट जारी होनेवाला है। हम चुनाव आयोग से मांग करेंगे कि वे मतदाता सूची से पहले फर्जी वोटरों के नाम हटाए।

SHARE

मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष संजय निरुपम ने एक चौकानें वाला खुलासा किया है। निरुपम के मुताबिक मुंबई में लगभग 9 लाख फर्जी मतदाता हैं। अब निरुपम ने चुनाव आयोग से मांग की है कि मतदाता सूची से फर्जी नामों की जांच कर उन्हें सूची से हटाया जाए।

एक प्रेस कांफ्रेंस में पत्रकारों से बात करते हुए संजय निरुपम ने दावा किया कि मुंबई के हर विधान सभा क्षेत्र में 15 से 20 हजार फर्जी मतदाता हैं और मुंबई की सभी छहों संसदीय क्षेत्र में लगभग एक से डेढ़ लाख फर्जी वोटर हैं। उन्होंने कहा आगामी लोकसभा चुनाव में करीब 9 लाख फर्जी मतदाता वोट डालेंगे।

निरुपम के मुताबिक फर्जी वोटर बनाने में काफी माफिया सक्रिय हैं। उन्होंने यह भी दावा किया कि इन माफियाओं से चुनाव अधिकारी भी मिले हुए ह्होते हैं। और ये अधिकारी फर्जी वोटर बनाने के लिए एक फिक्स अमाउंट तय करते हैं। निरुपम ने फर्जी वोटरों के सहारे यह लोकसभा का चुनाव होगा जो कि लोकतंत्र के लिए घातक है।

कांग्रेस अध्यक्ष के मुताबिक 31 जनवरी को मतदाता सूची का ड्राफ्ट जारी होनेवाला है। हम चुनाव आयोग से मांग करेंगे कि वे मतदाता सूची से पहले फर्जी वोटरों के नाम हटाए।

इस प्रेस कांफ्रेंस में निरुपम के हाथ में मतदाता सूची भी थी। जिसमें कई वोटरों के नाम कई इलाकों में दर्ज था।साथ ही कई वोटरों के नाम और पते भी गलत दिया गये थे। इस बारे में निरुपम ने कहा कि माफियाओं द्वारा दिंडोशी, अणुशक्ति नगर, मानखुर्द, चांदिवली जैसे इलाकों में बड़े पैमाने पर फर्जी वोटर बनाए गए हैं। इस संबंध में कांग्रेस की ओर से चुनाव आयोग को लिखित शिकायत भेजी गई है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें