बीच में ही स्थगित हुआ महाराष्ट्र का बजट अधिवेशन सत्र!

पुलिस की एक बड़ी संख्या को सुरक्षा के लिए लगाया जाता है, जिसे अब मुंबई के अलग अलग जगहों पर सुरक्षा के लिए तैनात किया जाएगा।

SHARE

भारत पाकिस्तान सीमा पर बढ़ते सैन्य गतिविधियों को देखते हुए राज्य में अतिरिक्त सुरक्षा बढ़ाने के लिए मुंबई में चल रहे बजट अधिवेशन को आज खत्म कर दिया गया। ये अधिवेशन 2 मार्च तक होना था। दरअसल मौजूदा सत्र के लिए मुंबई पुलिस की एक बड़ी संख्या को सुरक्षा के लिए लगाया जाता है। सुत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक अधिवेशन खत्म करने के बाद इन अतिरिक्त पुलिस बलों को राज्य और मुंबई की सुरक्षा में तैनात किया जा सकता है।

अधिवेशन को खत्म करने से पहले विनियोग विधेयक को मंजूरी दी गई, इस मंजूरी के बाद बजट को पास किया गया। बुधवार शाम को राज्य के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने माहाराष्ट्र पुलिस के आला अधिकारियों के साथ बैठक की और राज्य की सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया।

विपक्ष ने दिया साथ लेकिन उठाया सवाल
मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने गुरुवार को सभी पार्टियों की बैठक में सभा को स्थगित करने का फैसला किया। राज्य की विपक्षी पार्टियों ने मुख्यमंत्री के इस फैसले का स्वागत किया लेकिन इसके साथ ही आखिर इतने पुलिसकर्मियों की सुरक्षा के लिए जरुरत क्यो पड़ रही है? सुरक्षा बंदोबस्त के लिए करीब 5000 पुलिसकर्मी ड्यूटी पर तैनात हैं।

विधान भवन की सुरक्षा के अलावा 1500 अन्य पुलिसकर्मी सत्र के दौरान विभिन्‍न प्रदर्शनों को रोकने के लिए लगाए गए हैं।हालांकी मुख्यमंत्री ने लोगों से अपील की है की किसी भी तरह से पैनिक होने की कोई भी आवश्यकता नहीं है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें