वसई-विरार के बड़े नेता हितेंद्र ठाकुर ने की घोषणा, 'अब भविष्य में चुनाव नहीं लडूंगा'

महाराष्ट्र राज्य विधानसभा चुनाव के एक दिन बाद मीडियाकर्मियों से बात करते हुए ठाकुर ने यह घोषणा की।

SHARE


बहुजन विकास अघाड़ी के संस्थापक अध्यक्ष हितेंद्र ठाकुर और वसई विधानसभा सीट के उम्मीदवार बहुजन विकास आघाड़ी (BVA) ने घोषणा की है कि वे अब भविष्य में चुनाव नहीं लड़ेंगे, लेकिन राजनीति में बने रहेंगे। महाराष्ट्र राज्य विधानसभा चुनाव के एक दिन बाद मीडियाकर्मियों से बात करते हुए ठाकुर ने यह घोषणा की।

पत्रकारों से बात करते हुए हितेंद्र ठाकुर कहा कि, मैं अब से चुनाव नहीं लडूंगा लेकिन राजनीति भी नही छोड़ रहा हूँ। उन्होंने  आरोप लगाते हुए कहा कि, इस चुनाव में विपक्षियों का स्तर काफी गिरा हुआ था, जिससे वे काफी आहत हुए हैं।

उन्होंने विपक्षी पर आगे आरोप लगाते हुए कहा, विपक्षियों द्वारा वसई-विरार को बदनाम करने की काफी कोशिश की गयी।हम नालासोपारा, वसई और बोइसर तीनो सीट जीत रहे हैं। चुनाव में मित्र पक्ष के अलावा बीजेपी और शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने भी हमारी मदद की इसके लिए सभी का आभार।   

उन्होंने दावा किया कि वे यह चुनाव 50,000 वोट के अंतर से जीतेंगे। उन्होंने कहा, आने वाले पांच सालों में मैं पूरे जिले का दौरा करूंगा और अपने सभी वादों को पूरा करने की पूरी कोशिश करूंगा। अब लोग एक अलग हितेंद्र ठाकुर को देखेंगे।

गौरतलब है इस बार विधानसभा चुनाव में हितेंद्र ठाकुर वसई से उनके बेटे क्षितिज ठाकुर नालासोपारा से चुनाव लड़ रहे थे। शिवसेना ने नालासोपारा से पूर्व पुलिस अधिकारी प्रदीप शर्मा को सतीश ठाकुर के खिलाफ मैदान में उतारा है। और वसई में, महायुती के उम्मीदवार विजय पाटिल हितेंद्र ठाकुर के खिलाफ खड़े थे।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें