राज्यपाल से मिलेंगे बीजेपी नेता, सरकार गठन का बीजेपी कर सकती है दावा?

अब बीजेपी बिना शिव सेना के समर्थन से ही राज्यपाल से मिलने जा रही है तो ऐसे में सभी की निगाहें इस पर होंगी कि सरकार के गठन को लेकर राज्य में सबसे बड़ी पार्टी बीजेपी राज्यपाल से सरकार गठन को लेकर बात करेगी?

SHARE

 

महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर भले ही बेजीपी और शिव सेना में रस्साकसी चल रही है इसी बीच दोनों पार्टियों के नेताओं द्वारा राज्यपाल से भी मिलने का दौर जारी है। बुधवार को भाजपा नेता सुधीर मुनगंटीवार ने कहा कि भाजपा का प्रतिनिधिमंडल गुरुवार को राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मिलेगा और राजनीतिक परिस्थिति पर चर्चा करेगा। अब बीजेपी बिना शिव सेना के समर्थन से ही राज्यपाल से मिलने जा रही है तो ऐसे में सभी की निगाहें इस पर होंगी कि सरकार के गठन को लेकर राज्य में सबसे बड़ी पार्टी बीजेपी राज्यपाल से सरकार गठन को लेकर बात करेगी?  

प्रतिनिधिमंडल राज्यपाल से करेगा मुलाकात
बुधवार को बीजेपी कोर कमिटी की बैठक हुई। इस बैठक के बाद मुनगंटीवार ने पत्रकारों से कहा कि, राज्य के लोगों ने बीजेपी-शिवसेना-आरपीआई के महागठबंधन को जनादेश दिया है। लिहाजा, इस बारे में जल्द ही लोगों को खुशखबरी सुनने को मिलेगी। उन्होने आगे कहा, गुरुवार को भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल राज्यपाल से मुलाकात करेगा और राजनीतिक स्थिति पर चर्चा करेगा। उसके बाद गठबंधन के फार्मूले की जानकारी दी जाएगी।

शिवसेना का समर्थन मिलने से पहले ही बीजेपी का प्रतिनिधिमंडल राज्यपाल से मिल रहा है, इसमें मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस क्यों नहीं शामिल हो रहे हैं? इस सवाल का जवाब देते हुए मुनगंटीवार ने कहा, 'हम मुख्यमंत्री के प्रतिनिधि के रूप में ही राज्यपाल से मिलेंगे।'

प्रदेशाध्यक्ष का भी चुनाव
मुनगंटीवार ने आगे यह भी बताया कि 31 दिसंबर तक नए बीजेपी के नए प्रदेश अध्यक्ष का चुनाव भी होना है। तो ऐसे में अब यह  सवाल भी  उठ रहा है कि इस राजनीतिक अस्थिरता के समय बीजेपी को नए प्रदेशाध्य्क्ष चुनने की जरुरत आखिर क्यों महसुस हो रही है? 

पढ़ें: बीजेपी-शिवसेना की ही सरकार बनेगी- शरद पवार

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें