अगर शिवसेना चाहेगी तो वैकल्पिक सरकार दी जा सकती है- NCP

नवाब मलिक ने कहा कि, अगर सत्ता को लेकर बीजेपी और शिव सेना कुछ निश्चित नहीं करते हैं और राष्ट्रपति शासन लागू होने की नौबत आती है तो ऐसा हम होने नहीं देंगे।

SHARE

महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री पद के लिए बीजेपी और शिव सेना में जारी गतिरोध 12 दिन बाद भी समाप्त नहीं हुआ है। जबकि वर्तमान सरकार की मियांद यानी वैलिडिटी मात्र 8 या 9 तारीख तक ही है, अगर इसके बाद भी सत्ता का गठन नहीं होता है तो फिर राज्य में राष्ट्रपति शासन लग सकता है। इस बात पर NCP के विधायक और मुंबई अध्यक्ष नवाब मलिक ने कहा कि, अगर सत्ता को लेकर बीजेपी और शिव सेना कुछ निश्चित नहीं करते हैं और राष्ट्रपति शासन लागू होने की नौबत आती है तो ऐसा हम होने नहीं देंगे।

गैर बीजेपी सरकार बनाने किए सवाल पर मलिक ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि शिव सेना ने अभी तक कोई भी निर्णय नहीं लिया है, उन्हें तत्काल निर्णय लेना चाहिए। उसके बाद हम कोई वैकल्पिक सरकार दे सकते हैं। 

इसी बीच सूत्रों का कहना है कि एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार मुंबई में पार्टी के नेता और कार्यकर्ताओं के साथ गुरूवार को बैठक कर सकते हैं और एक बार फिर से दिल्ली जाकर सोनिया गांधी के साथ मुलाकात कर सकते हैं।

आपको बता दें कि अभी हाल ही में वित्त मंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने कहा था कि अगर समय रहते शिव सेना सरकार गठन के लिए पहल नहीं करती है तो राज्य में राष्ट्रपति शासन लागू किया जा सकता है।

पढ़ें: क्या बीजेपी से गठबंधन तोड़ने का शिवसेना से आश्वासन चाह रही है कांग्रेस- एनसीपी?

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें