Advertisement

केंद्रीय बजट में महाराष्ट्र पर नहीं दिया गया ध्यान- सांसद गजानन कीर्तिकर

गजानन किर्तिकर ने बजट पर सवाल उठाते हुए कहा की देश की मौजूदा विकास दर फिलहाल 4.5 फिसदी के आसपास है।

केंद्रीय बजट में महाराष्ट्र पर नहीं दिया गया ध्यान- सांसद गजानन कीर्तिकर
SHARES

मुंबई से शिवसेना सांसद गजानन कीर्तिकर ने साल 2020-21 के केंद्रिय बजट पर निशाना साधा है। गजानन किर्तिकर ने बजट पर सवाल उठाते हुए कहा की देश की मौजूदा विकास दर फिलहाल 4.5 फिसदी के आसपास है।  देशभर में बेरोजगारों की संख्या 22 लाख से भी ज्यादा हो गई है।  इन सभी के बाद भी केंद्र सरकार इन सभी समस्याओं को दूर करने के लिए कोई भी ठोस कदम नहीं उठा रही है।  

महाराष्ट्र से सबसे ज्यादा कर

सांसद गजानन किर्तिकर ने कहा की " महाराष्ट्र से देश को सबसे ज्यादा कर मिलता है , लेकिन इस बजट में महाराष्ट्र के लिए काफी कम राशि आवंटित की गई है, एक ओर सरकारी कंपनियों को बेचा जा रहा है तो वही दूसरी ओर रेलवे का प्राईवेटाइजेशन किया जा रहा है,  सरकार ने साल 2014 में कहा था की किसानों की आय 2022 तक दोगुनी कर दी जाएगी लेकिन अभी तक किसानो की आय दोगुनी करने के लिए कोई भी ठोस कदम नहीं उठाए गये,किसानों की आय दोगुनी करने के लिए मौजूदा समय में 11 फिसदी की विकासदर की जरुरत है लेकिन अभी के विकासदर को देखते हुए ये घोषणा पूरी तरह से अव्यवहारिक लग रही है"

जनता को किया गया गुमराह
सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होने कहा की " देश में पांच शहरों को स्मार्ट सिटी के रूप में विकसित करने की घोषणा की गई है। पिछले साल के बजट में 100 शहरों को स्मार्ट सिटी के रूप में विकसित करने की घोषणा की गई थी,लेकिन अभी तक ऐसा कुछ नहीं हुआ है , सरकार ने लोगों को गुमराह किया है, एक ओर मुंबई अहमदाबाद बुलेट ट्रेन की घोषणा की गई है, लेकिन मुंबई उपनगरीय रेलवे सेवा के बारे में कोई घोषणा नहीं की गई हैजिसमें मुंबई की  लाइफलाइन कहा जाता है


आपको बता दे की  भारतीय जनता पार्टी ने अपने लोकसभा सांसदों को यूनियन बजट 2020-2021 को पारित करवाने के लिए कल सदन में उपस्थित रहने का व्हिप जारी किया है।

Read this story in English
संबंधित विषय
Advertisement