Advertisement

19 फरवरी से महाराष्ट्र के कॉलेजों में राष्ट्रगीत गाना होगा अनिवार्य

उदय सामंत ने कहा कि, अब किसी भी कॉलेज का कामकाज राष्ट्रगीत गाने के बाद ही शुरु होगा। सामंत ने आगे कहा, इस कानून के जरिये बच्चों के मन में देशभक्ति की भावना पैदा की जाएगी।

19 फरवरी से महाराष्ट्र के कॉलेजों में राष्ट्रगीत गाना होगा अनिवार्य
SHARES

 

राज्य सरकार (maharashtra government) ने राज्य के सभी स्कूलों की तरह अब कॉलेजों में भी राष्ट्रगीत (indian anthem) गाना अनिवार्य करने का फैसला किया है। सरकार का यह आदेश 19 फरवरी यानी शिवाजी जयंती (shivaji jayanti) के दिन से लागू हो जाएगा। इस बात की जानकारी राज्य के उच्च और तकनीकी शिक्षा मंत्री उदय सामंत ने दी। यह नियम मराठी स्कूलों, हिंदी स्कूलों सहित इंग्लिश स्कूलों पर भी लागू होगा।

उदय सामंत ने कहा कि, अब किसी भी कॉलेज का कामकाज राष्ट्रगीत गाने के बाद ही शुरु होगा। सामंत ने आगे कहा, इस कानून के जरिये बच्चों के मन में देशभक्ति की भावना पैदा की जाएगी। 

इसके अलावा इस नियम को महाराष्ट्र के प्रत्येक इंजीनियरिंग, फार्मेसी, फार्मा और आर्किटेक्ट कॉलेजों के लिए भी लागू किया गया है। किसी भी राज्य में इस तरह के नियम को लागू करने वाला महाराष्ट्र पहला राज्य बन गया है। 

इसके पहले ने कहा था कि कई लोगों ने राष्ट्र के लिए अपने जीवन का बलिदान दिया है और इसलिए हर छात्र में देशभक्ति(patriotism) की भावना जगाने और उन्हें उनके महत्व के बारे में जागरूक करने के लिए राष्ट्रगीत बजाना आवश्यक है।  उन्होंने यह भी कहा कि हर किसी को अपनी मातृभाषा पर गर्व महसूस करना चाहिएऔर सरकार विश्वविद्यालयों को मराठी में उनके नाम के बोर्ड लगाने का निर्देश भी दे रही है।

राष्ट्रवाद के मुद्दे पर अब महाराष्ट्र की महाविकास आघाड़ी सरकार भारतीय जनता पार्टी मात देना चाहती है।लिहाजा उद्धव ठाकरे सरकार ने संदेश देने के लिए महाराष्ट्र के स्कूलों और कॉलेजों में किसी भी कार्यक्रम से पहले राष्ट्रगीत गाने का आदेश दिया है 

Read this story in मराठी or English
संबंधित विषय
Advertisement