कांग्रेस और एनसीपी के कई नेता खुद बीजेपी में आना चाहते हैं तो मैं क्या करूं- मुख्यमंत्री


SHARE

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने एक सवाल के जवाब में कहा कि, बीजेपी में कांग्रेस और एनसीपी के लोग खुद आना चाहते हैं। बीजेपी किसी पार्टी को तोड़ने का काम नहीं करती है। दरअसल मुख्यमंत्री उस सवाल का जवाब दे रहे थे जिसमें बीजेपी पर आरोप लगा था कि बीजेपी दूसरी पार्टी के नेताओं को सरकारी एजेंसियों का डर दिखाकर बीजेपी में शामिल करने की कोशिश करती है।

शरद पवार ने लगाया था आरोप
एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने पुणे में बीजेपी पर आरोप लगाते हुआ कहा था कि बीजेपी लोगों को तोड़ने का काम करती है। वे लोग उनके अन्य मंत्री दूसरी पार्टी के नेताओं को सरकारी एजेंसियों का डर दिखाकर बीजेपी में शामिल करने की कोशिश कर रहे हैं। पवार ने हसन मुश्रीफ का नाम लेते हुए कहा कि यह ठीक वैसे ही हो रहा है, जैसे कोल्हापुर में हसन मुश्रीफ के यहां हुआ। उन लोगों को पार्टी जॉइन करने के लिए कहा गया था और जब उन्होंने इसके लिए इनकार किया तो यह कार्रवाई की गई।'

पढ़ें: Exclusive - मुंबई कांग्रेस के कई और नेता शिवसेना-बीजेपी के संपर्क में!

मुख्यमंत्री ने दिया जवाब  
इसके जवाब में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने पवार के आरोपों का खंडन करते हुए कहा कि एनसीपी अध्यक्ष को पार्टी के सदस्यों के साथ बैठक कर इस बात का आत्ममंथन करना चाहिए कि लोग उनकी पार्टी क्यों छोड़ रहे हैं?

फडणवीस ने कहा कि बीजेपी किसी के पीछे भागने वाली पार्टी नहीं है, दूसरी पार्टी के नेता ही खुद बीजेपी में आना चाहते हैं। कांग्रेस और एनसीपी के कई नेता बीजेपी में आना चाहते हैं. उन्होंने आगे कहा कि जिन नेताओं पर प्रवर्तन निदेशालय की ओर से मामला दर्ज होगा उन्हें पार्टी में शामिल नहीं किया जाएगा।

क्या था मामला?
आपको बता दें कि अभी दो दिन पहले ही एनसीपी नेता हसन मुश्रीफ के घर पर ईडी ने छापा मारा था। यही नहीं  एनसीपी मुंबई अध्यक्ष सचिन अहीर और पार्टी की महिला विंग की अध्यक्ष चित्रा वाघ ने पार्टी छोड़ दी है। अहीर शिवसेना में शामिल हो गये है जबकि एनसीपी के विधायक वैभव पिचाड भी बीजेपी में जाने की इच्छा जाहिर कर चुके हैं। यही नहीं कर्नाटक में कुमारस्वामी सरकार गिरने के पीछे भी बीजेपी पर विधायकों की खरीद फरोख्त करने का आरोप लगते रहे हैं। इसके विरोध में मुंबई में कांग्रेस ने कई बार आन्दोलन मोर्चा भी कर चुकी है।

पढ़ें: सचिन अहिर शिवसेना में शामिल

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें