विधानसभा चुनाव में उम्मीदवार उतारेगी मराठा क्रांति मोर्चा

यह जानकारी मराठा मोर्चा के समन्वयक आबासाहेब पाटिल ने दी।

SHARE

राज्य में आनेवाले विधानसभा चुनाव को देखते हुए मराठा क्रांती मोर्चा ने भी इस चुनाव के लिए अपने उम्मीदवार उतारने का फैसला किया है। मराठआ समाज के लोगों का कहना है की हमें आरक्षण दिया गया, लेकिन मराठा समुदाय की कई मांगें आज भी लंबित हैं। छात्रों को भुगतना करना पड़ रहा है प्रवेश प्रक्रिया में त्रुटियां होती हैं। इसीलिए मराठा क्रांति मोर्चा आगामी विधानसभा चुनावों में अपने उम्मीदवारों को मैदान में उतारेगी। यह जानकारी मराठा मोर्चा के समन्वयक आबासाहेब पाटिल ने दी।

पाटिल ने कहा की "शिवछत्रपति के आशीर्वाद से यह सरकार सत्ता में आई। लेकिन जब सरकार सत्ता में आईतो यह सरकार मराठा समुदाय से किए गए वादों को भूल गई, सत्ता पक्ष और विपक्ष सभी एक ही माला के मणी जैसे है, पिछले वर्षों सेसभी दल मराठा समुदाय को आरक्षण की लालसा दिखाकर केवल राजनीतिक लाभ के लिए इस समाज का उपयोग कर रहे है"

उन्होने अपनी बात को आगे बढ़ता हुए कहा की  " केंद्र और राज्य में मराठा समुदाय लोगों के प्रतिनिधि भी मराठा समुदाय की मांगों का पालन नहीं करते हैं। इसीलिए हमने मराठा क्रांति ठोक मोर्चा के जरिए चुनाव में अपने उम्मीदवार खड़े करने का फैसला किया"

संबंधित विषय