EVM के विरोध में मनसे 9 अगस्त को करेगी आंदोलन

राज दिल्ली जाकर मुख्य चुनाव आयुक्त से मुलाकात भी किया था और कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी से भी मिल कर सभी विपक्षी पार्टियों को इस मुद्दे पर एक होने की सलाह भी दी थी।

SHARE

लोकसभा चुनाव में वोटिंग के लिए उपयोग में लाये गये EVM मशीन को लेकर देश की कई राजनीतिक दलों ने विरोध प्रकट किया था। इसी में से राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना भी शामिल थी। राज ठाकरे इस मुद्दे पर नाराजगी भी प्रकट किया था। यही नहीं उन्होंने दिल्ली जाकर मुख्य चुनाव आयुक्त से  मुलाकात भी किया था और कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी से भी मिल कर सभी विपक्षी पार्टियों को इस मुद्दे पर एक होने की सलाह भी दी थी।

मुलाकातों का दौर है जारी 
अब बताया जा रहा है कि राज ठाकरे EVM मुद्दे को लेकर एनसीपी के प्रदेशाध्यक्ष जयंत पाटील से उनके निवास स्थान जाकर मिले हैं। इस मुलाकात को लेकर राजनीतिक गलियारों में चर्चा शुरू हो गयी है। साथ ही राज कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष बालासाहब थोरात से भी मिलने वाले हैं। बताया जाता है कि राज ठाकरे इस मुद्दे को लेकर राष्ट्रिय स्तर तक ले जाना चाहते हैं, इसीलिए वे बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बैनर्जी से भी मुलाकात करने वाले हैं।

तो चुनाव का करेंगे बहिष्कार 
सूत्रों के अनुसार राज ठाकरे ईवीएम के विरोध में 'ईवीएम हटाओ बैलट पेपर लाओ' का नारा देते हुए 9 अगस्त को आंदोलन करने वाले हैं। हालांकि अभी तक इस आंदोलन की रुपरेखा तय नहीं की गयी है लेकिन पार्टी की तरफ से तैयारी शुरू कर दी गयी है। मनसे की तरफ से यह भी कहना है कि अगर इस चुनाव में बैलट पेपर से चुनाव नहीं हुए तो वे इस चुनाव का बहिष्कार करेंगे।  

विधानसभा चुनाव में उतरने की तैयारी
आपको बता दें कि इस लोकसभा चुनाव में मनसे ने कोई उम्मीदवार नहीं उतारा था, जिस तरह से बीजेपी को प्रचंड बहुमत मिला है, इसे लेकर कई पार्टियों को शक है कि बीजेपी ने ईवीएम में छेड़छाड़ की है। अब जबकि आने वाले विधानसभा चुनाव में उतरने की तैयारी मनसे कर रही है तो वह ईवीएम के बजाय बैलेट पेपर से वोट करवाना चाहती है। इसीलिए राज आने वाले विधानसभा चुनाव के लिए कोई कसर बाकी नहीं रखना चाहते हैं।

संबंधित विषय