सचिन अहिर ने पार्टी के साथ विश्वासघात किया- नवाब मलिक

पत्रकारों से बात करते हुए मलिक ने कहा कि एनसीपी ने अहिर को कम उम्र में ही विधायक बनाया, मंत्री पद दिया, मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष बनाया। पार्टी के दम पर ही अहिर ने राजनीति में अपना एक स्थान बनाया।

SHARE

एनसीपी नेता सचिन अहिर शिवसेना में शामिल होने के बाद अब पूर्व एनसीपी नेता हो गये हैं। शिवसेना में शामिल होने के बाद एनसीपी के प्रवक्ता नवाब मलिक ने अहिर पर तंज कसा है। उन्होंने ट्वीट किया और कहा कि धारा के खिलाफ तैरने की हिम्मत नहीं थी इसीलिए सचिन अहिर शिवसेना में गये। सचिन अहिर दल बल के साथ गुरूवार को शिवसेना में शामिल हो गये।

पत्रकारों से बात करते हुए मलिक ने कहा कि एनसीपी ने अहिर को कम उम्र में ही विधायक बनाया, मंत्री पद दिया, मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष बनाया। पार्टी के दम पर ही अहिर ने राजनीति में अपना एक स्थान बनाया। पार्टी को उन पर विश्वास था लेकिन उन्होंने ही कठिन समय में पार्टी का साथ छोड़ दिया जो की बेहद दुःख करने वाली बात है।

उन्होंने आगे कहा कि एनसीपी मुंबई अध्यक्ष बनने के बाद पार्टी जरा भी आगे नहीं बढ़ी क्योंकि अहिर में उतनी ताकत ही नहीं थी कि वे पार्टी के लिए कुछ कर सकें। उन्होंने अपनी जिम्मेदारी निभाने के बजाय जिम्मेदारी से भागना ही उचित समझा। अहिर के जाने से एनसीपी को कुछ खास फर्क नहीं पड़ेगा. एनसीपी के सभी नेता, कार्यकर्ता पार्टी के साथ खड़े हैं।

बीजेपी और शिवसेना में दूसरी पार्टी के लोगों की संख्या जिस तरह से बढ़ रही है उसे लेकर मलिक ने कहा कि यह केवल एक भ्रम है। उन्होंने विश्वास जताया कि आने वाले चुनाव में हम जरुर जीतेंगे।

पढ़ें: सचिन अहिर शिवसेना में शामिल

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें