Advertisement

महाविकास आघाड़ी सरकार में तीन सहयोगियों के बीच कोई असहमति नहीं: संजय राउत

राउत की यह टिप्पणी महाविकास आघाड़ी नेताओं सहित शरद पवार, अनिल देशमुख, जितेंद्र अवाह्ण के मातोश्री जाने के एक दिन बाद आई है, जिसने राजनीतिक हलकों में अटकलों की एक बड़ी शुरुआत की है।

महाविकास आघाड़ी  सरकार में तीन सहयोगियों के बीच कोई असहमति नहीं: संजय राउत
SHARES

शिवसेना सांसद संजय राउत ने मंगलवार को इन अटकलों पर पलटवार किया और कहा कि महाराष्ट्र में महाविकास आघाडी (एमवीए) सरकार अपना पांच साल का कार्यकाल पूरा करेगी। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में तीन-पक्षीय गठबंधन के बीच कोई असहमति नहीं थी। राउत की यह टिप्पणी एमआरए नेताओं सहित शरद पवार, अनिल देशमुख, जितेंद्र आवाह्ण के मातोश्री जाने के एक दिन बाद आई है, जिसने राजनीतिक हलकों में अटकलों की एक बड़ी शुरुआत की है।

पुलिस अधिकारियों के ट्रांसफर पर विवाद

मुंबई पुलिस के डिप्टी कमिश्नर (DCP) रैंक के अधिकारियों के 10 IPS अधिकारियों और मुख्यमंत्री कार्यालय (CMO) द्वारा इसके निरस्तीकरण के आदेश ने तीन-पक्षीय महा विकास आघाड़ी (MVA) सरकार के बीच फिर से परेशानी बढ़ा दी है। मीडिया रिपोर्टों से पता चलता है कि मातोश्री में बैठक यह सुनिश्चित करने के लिए बुलाई गई थी कि एमवीए में सहयोगी भविष्य में  किसी आपसी विवाद में ना पड़े। रविवार को पुलिस आयुक्त परम बीर सिंह, उद्धव ठाकरे से उनके आवास पर मिले थे।

सरकार में असहमती नहीं 

हालांकि, राउत ने कहा कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे बहुत अच्छा काम कर रहे थे और तीनों सहयोगियों - शिवसेना, कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के बीच कोई मतभेद नहीं थे। संजय राउत ने कहा की मुख्यमंत्री सबसे छोटे विवरणों पर ध्यान दे रहे हैं। कोई गड़बड़ नहीं है। सरकार वरिष्ठ नेताओं द्वारा बनाई गई है जिनके पास अनुभव है।उन्होंने आगे कहा कि मतभेद हो सकता है लेकिन असहमति नहीं।

परामर्श से अब सभी निर्णय 

राउत ने कहा कि यहां तक कि पवार सरकार के प्रदर्शन से संतुष्ट थे। शरद पवार ने डीसीपी ट्रांसफर के मुद्दे पर  लिए सोमवार को मातोश्री का दौरा किया था।शिवसेना नेता ने कहा कि तीनों सहयोगियों के बीच चर्चा और सीएम के परामर्श से अब सभी निर्णय लिए जा रहे हैं।

यह भी पढ़ेमोदी के लद्दाख दौरे से हैरान नहीं: एनसीपी प्रमुख शरद पवार

संबंधित विषय
Advertisement