न युद्धविराम होता न होता पीओके- अमित शाह

रविवार को बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने गोरेगांव के नेस्को ग्राउंड में बीजेपी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया

SHARE

रविवार को मुंबई के नेस्को ग्राउंड में बीजेपी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए बीजेपी अध्यक्ष ने एक बार फिर से पंडित नेहरू पर निशाना साधा।   शाह ने कहा कि आजादी के समय रियासतें भारत में शामिल हो रही थी। सरदार पटेल पर जिन रियासतों की जिम्मेदारी थी, सारी अखंड भारत का हिस्सा बनीं। जम्मू कश्मीर की जिम्मेदारी पंडित नेहरू पर थी और उनकी वजह से वहां अनुच्छेद 370 लागू करना पड़ा। 


अमित शाह ने कहा की " जनसंघ और भाजपा ने हमेशा अनुच्छेद 370 और धारा 35 ए के खिलाफ आवाज उठाई है। हम अनुच्छेद 370 और 35A के खिलाफ समर्पित योद्धा हैं, अनुच्छेद 370 ही था, जिसके कारण हर भारतीय को यह बोलना पड़ता है कि कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा है। आज पीएम मोदी के नेतृत्व में जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा बन चुका है"

गठबंधन पर कोई एलान नहीं 

अमित शाह ने जहां एक ओर पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया तो वहीं दूसरी ओर बीजेपी और शिवसेना के गठबंधन पर कुछ नहीं कहा।  कयाश लगाए जा रहे थे की अमित शाह के दौरे के समय ही राज्य में होनेवाले विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी और शिवसेना के सीट बंटवारे पर भी बयान आ सकता है।  

आर्टिकल 370 होगा चुनावी मुद्दा 

बीजेपी ने पहले ही साफ कर दिया है राज्य में होनेवाले विधानसभा चुनाव में पार्टी जम्मू और कश्मीर से आर्टिकल 370 के हटाने के फैसले को चुनावी मुद्दा बनाएगी।  भारतीय जनता पार्टी की शहर इकाई सार्वजनिक जागरूकता पैदा करने के लिए लगभग 300 नुक्कड़ नाटक करने का फैसला किया है।

यह भी पढ़े- महाराष्ट्र में कांग्रेस के बड़े भाई का रुतबा खत्म!

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें