चुनाव आयोग के अलावा उम्मीदवारों पर है इनकी भी नजर...

मुंबई - बीएमसी चुनाव को लेकर शिवसेना और बीजेपी दोनों एक दूसरे पर जमकर निशाना साध रही है। दोनों ही पार्टियां किसी भी सूरत में बीएमसी पर अपनी अपनी सत्ता स्थापित करना चाहती हैं। लेकिन अब इन पार्टियों ने चुनाव जीतने के लिए जासूसों की मदद लेनी शुरु कर दी है।

डिटेक्टिव रंजना पंडित का कहना है कि पार्टियों के उम्मीदवार जासूसों की मदद लेकर इस बात का पता करते है की उनके सामने खड़ा उम्मीदवार चुनाव प्रचार के दौरान क्या-क्या कर रहा है। इससे ना ही सिर्फ उन्हे अपने विरोधियों के बारे में पता रहता है बल्कि उन्हें चुनावी रणनीति बनाने में भी मदद मिलती है।

Loading Comments