Advertisement

विधानसभा में वीर सावरकर के गौरव सम्मान का प्रस्ताव खारिज

राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने विधानसभा में कांग्रेस की मासिक पत्रिका ‘शिदोरी’ पर पाबंदी लगाने की मांग की।

विधानसभा में वीर सावरकर के गौरव सम्मान का प्रस्ताव खारिज
SHARES

वीर सावरक की पुण्यतिथी के मौके पर बीजेपी ने महाराष्ट्र विधानसभा में वीर सावरकर के गौरव सम्मान का प्रस्ताव रखा था, जिसे विधानसभा अध्यक्ष नाना पटोले ने खारीज कर दिया।  हाल ही में महाराष्ट्र कांग्रेस की मासिक पत्रिका ‘शिदोरी’ में सावरकर को लेकर आपत्तिजनक लेख छापे गए थे। इनमें सावरकर का चरित्रहनन किया गया। जिसका भाजपा ने विरोध किया। बीजेपी ने इस मुद्दे को विधानभवन में भी उठाय़ा। राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने विधानसभा में कांग्रेस की मासिक पत्रिका ‘शिदोरी’ पर पाबंदी लगाने की मांग की। देवेंद्र फड़णवीस ने कहा की ‘शिदोरी' मे वीर सावकर को बलात्कारी बताया गया है जो बिल्कूल गलत है और देश इसे नहीं बर्दाश्त करेगा।

राज्य के पूर्व वित्तमंत्री और बीजेपी नेता सुधीर मुगंटीवार ने विधानसभा में वीर सावकर के गौरव सम्मान का प्रस्ताव रखा। हालांकी कांग्रेस और एनसीपी ने इस प्रस्ताव को सदम में रखने के तरिके पर सवाल उठाए , जिसके बाद बीजेपी कांग्रेस और एनसीपी में इस प्रस्ताव को पेश करने के तरिके पर बहस हुई। छगन भूजबल और अजित पवार ने सुधीर मुंगंटीवार के प्रस्ताव को पेश करने के तरिके पर सवाल उठाए, जिसके बाद देवेंद्र फड़णवीस विधानसभा में आक्रामक हो   गए।देवेंद्र फड़णवीस ने विधानसभा में कांग्रेस की मैगजीन  ‘शिदोरी' का विरोध किया। 

देवेंद्र फडणवीस ने विधानसभा में शिदोरी' का विरोध करते हुए कहा की  वीर सावकर को बलात्कारी बताया गया है जो बिल्कूल गलत है और देश इसे नहीं बर्दाश्त करेगा, इसके साथ ही उन्होने इस मैग्जीन पर पाबंदी की भी मांग की। आपको बता दे की शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में सावरकर की पुण्यतिथि पर न ही कोई लेख छापा है न ही अपनी संपादकीय में कोई जिक्र किया है।

Read this story in English
संबंधित विषय
Advertisement