Advertisement

सुशांत सिंह राजपूत के विधायक भाई ने संजय राउत को भेजा लीगल नोटिस

Bablu, through his lawyer, on Wednesday sent a legal notice to Raut via email asking him to apologise within 48 hours or he will have to face legal action over his “baseless” remarks on Sushant’s relations with his family.

सुशांत सिंह राजपूत के विधायक भाई ने संजय राउत को भेजा लीगल नोटिस
SHARES

नीरज कुमार सिंह बबलू, बिहार में भारतीय जनता पार्टी (BJP) के विधायक और दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के चचेरे भाई, ने बुधवार को शिवसेना (Shivsena) नेता संजय राउत (Sanjay Raut) को 'सामाना' में प्रकाशित एक लेख पर कानूनी नोटिस भेजा है।

लेख में राउत ने जिक्र किया है कि सुशांत सिंह राजपूत के पिता के के सिंह (K K Singh) के साथ संबंध अच्छे नहीं थे। सुशांत अपने पिता की दूसरी शादी से नाखुश थे। 

केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने सुशांत की मौत के केस को अपने हाथ में लिया हुए हैं, इसके बाद राउत ने अपने कॉलम ’रोखटोख’ में आरोप लगाया कि बॉलीवुड अभिनेता सुशांत के रिश्ते पिता के साथ ठीक नहीं थे।

राउत के लेख पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए बबलू ने कहा कि सुशांत के पिता पर शिवसेना सांसद द्वारा लगाए गए आरोप मिथ्या हैं। उनको अपने इस रवैये पर पब्लिकली माफी मांगनी होगी। 

बबलू ने अपने वकील के माध्यम से बुधवार को राउत को ईमेल के माध्यम से कानूनी नोटिस भेजा, जिसमें उनसे 48 घंटे के भीतर माफी मांगने के लिए कहा गया या उन्हें सुशांत के अपने परिवार के साथ संबंधों पर "आधारहीन" टिप्पणी पर कानूनी कार्रवाई का सामना करना पड़ेगा।

भाजपा विधायक के वकील आशीष झा ने कहा कि अगर शिवसेना सांसद संजय राउत 48 घंटे के भीतर माफी मांगते हैं तो मामले को आगे नहीं बढ़ाया जाएगा। अगर वह ऐसा करने में विफल रहते हैं, तो हम कानूनी कार्रवाई करेंगे।

यह भी पढ़ें:सुशांत की आत्महत्या पर पहली बार शरद पवार आए सामने, कही हैरान कर देने वाली बात

बबलू ने पहले ही कहा था कि सुशांत के पिता की दूसरी शादी के बारे में राउत ने जो दावे किए, वे फर्जी थे। उन्होंने नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि राउत बिना तथ्यों को जाने ऐसी टिप्पणी नहीं कर सकते। 

इस बीच, बिहार भाजपा ने मांग की है कि सुशांत की मौत के मामले में राउत और महाराष्ट्र के मंत्री आदित्य ठाकरे से सीबीआई पूछताछ करे। भाजपा के निखिल आनंद ने सुझाव दिया कि सीबीआई को दोनों नेताओं पर एक नार्को-विश्लेषण परीक्षण करना चाहिए। उन्होंने आगे आरोप लगाया कि मौत के मामले से जुड़े सबूतों के साथ छेड़छाड़ और नष्ट किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: 'AU' नाम के संदिग्ध कॉल को लेकर रिया की तरफ से आई सफाई

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
Advertisement