Advertisement

छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा को हटाने को लेकर शिवसेना आक्रामक

कई जगहों पर एक साथ किये विरोध प्रदर्शन

छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा को हटाने को लेकर शिवसेना आक्रामक
SHARES

शिवसेना ( Shivsena) कार्यकर्ताओं ने कर्नाटक के बेलगाम (Belgaum) जिले के एक गांव में छत्रपति शिवाजी महाराज (Chhatrpati shivaji maharaj) की प्रतिमा को हटाने को लेकर कर्नाटक(Karnatak)  सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। इसके साथ ही उन्होने इसके साथ कई स्थानों पर विरोध प्रदर्शन भी किया। दहिसर इलाके मे भी शिवसेना प्राटी कार्यकर्ताओं की ओर से विरोध प्रदर्शन किया गया। 

शिवसेना ने साधा निशाना

कर्नाटक के बेलगाम जिले में छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा हटाये जाने को लेकर शिवसेना सांसद संजय राउत ने इसकी निंदा करते हुए सभी दलों को महाराष्ट्र भाजपा के नेता देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व में इसके खिलाफ एकजुट होने को कहा। शिवसेना ने आरोप लगाया है कि कर्नाटक सरकार ने बेलगाम के मंगुट्टी गाँव में छत्रपति शिवाजी महाराज की मूर्ति को हटाया गया और इस मुद्दे पर चुप रहने के लिए भाजपा पर निशाना साधा। शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना के एक संपादकीय में कहा कि प्रशासन के आदेशों के बिना इस मूर्ति को हटाया नहीं जा सकता।

उच्चतम न्यायालय में लंबित है मामला

कर्नाटक के बेलगाम जिले में काफी संख्या में मराठी भाषी लोग रहते हैं और महाराष्ट्र और कर्नाटक के बीच लंबे समय से क्षेत्र की सीमा को लेकर विवाद है और महाराष्ट्र-कर्नाटक सीमा विवाद उच्चतम न्यायालय के समक्ष लंबित है।

यह भी पढ़ेअभिनेत्री से सांसद बनी नवनीत राणा की तबियत बिगड़ी, परिवार के 16 सदस्य भी कोरोना संक्रमित

संबंधित विषय
Advertisement