Coronavirus cases in Maharashtra: 354Mumbai: 181Pune: 39Islampur Sangli: 25Nagpur: 16Pimpri Chinchwad: 12Kalyan-Dombivali: 9Thane: 9Navi Mumbai: 8Ahmednagar: 8Vasai-Virar: 6Buldhana: 5Yavatmal: 4Satara: 2Panvel: 2Kolhapur: 2Ulhasnagar: 1Aurangabad: 1Ratnagiri: 1Sindudurga: 1Pune Gramin: 1Godiya: 1Jalgoan: 1Palghar: 1Nashik: 1Gujrat Citizen in Maharashtra: 1Total Deaths: 16Total Discharged: 41BMC Helpline Number:1916State Helpline Number:022-22694725

महाराष्ट्र में पिक्चर अभी बाकी, शिव सेना नहीं सिद्ध कर पाई बहुमत, एनसीपी और कांग्रेस ने लगाया पेंच


महाराष्ट्र में पिक्चर अभी बाकी, शिव सेना नहीं सिद्ध कर पाई बहुमत, एनसीपी और कांग्रेस ने लगाया पेंच
SHARE

महाराष्ट्र की राजनीतिक स्थिति पल-पल बदल रही है। पहले खबर आई कि एनसीपी और कांग्रेस द्वारा समर्थन देने पर शिव सेना ने राज्यपाल से सरकार बनाने का दावा किया था, लेकिन थोड़ी देर बाद पता चला कि शिव सेना को अभी तक कांग्रेस और एनसीपी ने समर्थन पत्र दिया ही नहीं है जबकि राज्यपाल ने शिव सेना को बहुमत सिद्ध करने के लिए जो समय दिया था वह समय आज ही समाप्त हो गया। इसके बाद बहुमत हासिल करने के लिए आदित्य ठाकरे ने राज्यपाल से दो दिन का समय मांगा है जिसे राज्यपाल ने नहीं माना।

सरकार गठन को लेकर सोमवार शाम को काफी असमंजस पैदा करने वाला समय रहा। शिव सेना के नेता आदित्य ठाकरे, एकनाथ शिंदे और अन्य नेता राज्यपाल के पास अपना बहुमत सिद्ध करने के लिए गए थे। वहां जाने के बाद खबर आई कि शिव सेना ने सरकार गठन करने का बहुमत सिद्ध कर लिया है, कांग्रेस और एनसीपी ने अपना समर्थन पत्र राजभवन में फैक्स कर दिया है। यह खबर धड़ाधड़ मीडिया में और पत्रकारों के बीच फ़ैल गयी. कई चैनलों ने तो ब्रेकिंग भी चला दिया। 

लेकिन इसके थोड़ी देर बाद आदित्य ठाकरे ने मीडिया को संबोधित करते हुए मामला स्पष्ट किया। आदित्य ने कहा कि,  'हमने गवर्नर को सरकार बनाने की इच्छा के बारे में बताया है। और उनसे दो दिन का समय मांगा है। गवर्नर ने समय देने से इनकार कर दिया है, हालांकि उन्होंने हमारे सरकार बनाने के दावे को अधिकारिक तौर पर खारिज नहीं किया है।'

आदित्य के इस कथन के बाद यह स्पष्ट हुआ कि शिव सेना को अभी तक ने तो कांग्रेस और न ही एनसीपी में से किसी ने भी अपना समर्थन नहीं दिया है।

करीब 40 मिनट तक राज्यपाल से मुलाकात करने के बाद  आदित्य ठाकरे ने पत्रकारों से कहा कि, कल शाम बीजेपी द्वारा सरकार बनाने से मना करने के बाद राज्यपाल ने हमें सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया। इसके बाद राजयपाल ने हमें 24 घंटे के भीतर सरकार बनाने का समय दिया। आज हमने अपनी इच्छा के बारे में राज्यपाल को सूचित कर दिया। दावा पेश करने के लिए हमने उनसे दो दिन का समय मांगा है। उन्होंने दो दिन का समय देने से इनकार कर दिया है। हालांकि अधिकारिक तौर पर हमारा दावा अभी तक खारिज नहीं हुआ है।'    

आपको बता दें कि कांग्रेस द्वारा शिव सेना को समर्थन देने की बात पर  कांग्रेस ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा कि उनकी पार्टी नेताओं से अभी बात चल रही है। कांग्रेस अध्यक्ष इस बारे में कल (मंगलवार) को सरकार बनाने को लेकर चर्चा करेंगी, इसके बाद ही अंतिम फैसला लिया जाएगा।

पढ़ें: ख़त्म हुआ सस्पेंस, शिव सेना ने सरकार बनाने का पेश किया दावा, एनसीपी और कांग्रेस समर्थन देने को तैयार

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें