SHARE

मुंबई - राज्य चुनाव आयोग ने ट्रू वोटर ऐप्लिकेशन वोटरों को विविध सुविधाएं देने के मकसद से लॉन्च किया था। जिसका सारा डेटाबेस राज्य शासन के स्टेट डेटा सेंटर में रखा गया था। पर आज जब इसकी जरूरत थी तो वोटरों को इस ऐप ने धोखा दे दिया। जब वोटर मंगलवार को ट्रू वोटर पर अपना नाम खोज रहे थे, उस समय इस ऐप पर सर्वर एरर आ रही थी। जिसकी वजह से लोग प्रशासन के काम काज से काफी नाराज हुए। राज्य तकनीकि विभाग के अधिकारी मुकेश सोमकुवर का इस पर कहना है कि एरर आने के बाद हमने स्पेस बढ़ाया और 84 फीसदी ऐप की समस्या को दूर किया। 

 

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें