महाराष्ट्र की यह महिला पुलिस बनना चाहती है पुरुष, कोर्ट से मांगी इजाजत


SHARE

सेक्स चेंज करने के बाद भी नौकरी पर बने रहने के लिए 29 वर्षीय महिला कॉन्स्टेबल ललिता साल्वे ने अब हाईकोर्ट की शरण ली है। ललिता चाहती है कि वह ‘सेक्स रिअसाइनमेंट’ सर्जरी के बाद भी नौकरी जारी रखे लेकिन उसके इस अनुरोध को महाराष्ट्र पुलिस मुख्यालय ने ठुकरा दिया, जिसके बाद ललिता ने इस मामले में बॉम्बे हाईकोर्ट से न्याय की गुहार लगायी है।  

सेक्स चेंज कराना चाहती है ललिता

ललिता साल्वे ने 2009 में महाराष्ट्र पुलिस जॉइन की थी और वह बीड में महिला कॉन्स्टेबल पद पर कार्यरत है। दरअसल, ललिता के अनुसार वह अपने शारीरिक बनावट में कुछ ऐसे बदलाव महसूस करती है जो सिर्फ पुरुषों में होते हैं। इसीलिए उसने तय किया कि वह एक पुरुष बनेगी और वह पुरुष बनकर अधिक सहज रहेगी। ललिता ने दो महीने पहले सेक्स चेंज के लिए छुट्टी का आवेदन किया है और वह चाहती है कि सेक्स चेंज के बाद भी वह नौकरी करे। ललिता का 23 जून को जे.जे अस्पताल में हार्मोन्स और शारीरिक जांच किया जायेगा, डॉक्टर जाँच केhttps://trello.com/c/4aIYbXmo बाद ही लिंग चेंज करने का निर्णय लेंगे।

महाराष्ट्र पुलिस ने ठुकराई मांग

महाराष्ट्र पुलिस की तरफ से ललिता के आवेदन का उत्तर देते हुए उससे कहा गया कि सेक्स चेंज के बाद उसे नौकरी छोड़नी पड़ेगी। महाराष्ट्र पुलिस के अनुसार महाराष्ट्र पुलिस के इतिहास में पहली बार ऐसा मामला आया है। इसीलिए सभी कानूनी पक्षों को ध्यान में रखते हुए यह फैसला लिया गया है।

मुख्यमंत्री ने दिया मदद का आश्वासन

महाराष्ट्र पुलिस मुख्यालय द्वारा ललिता के नौकरी जारी रखने के अनुरोध को ठुकराने के बाद उसने हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया। तो वहीं इस मामले में हस्तक्षेप करते हुए मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने ललिता को मदद का आश्वासन दिया है।



संबंधित विषय
ताजा ख़बरें