Advertisement

ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी भारत को 500 साल पुरानी चोरी हुई कांस्य मूर्ति लौटाएगी

संग्रहालय ने कहा कि उसने 1967 में “सद्भावना” से यह प्रतिमा हासिल की थी

ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी भारत को 500 साल पुरानी चोरी हुई कांस्य मूर्ति लौटाएगी
SHARES

तमिलनाडु के एक मंदिर से चुराई गई एक संत की 500 साल पुरानी कांस्य मूर्ति को ब्रिटेन की प्रतिष्ठित ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी भारत को लौटाएगी। 11 मार्च 2024 को, ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की परिषद ने एशमोलियन संग्रहालय से संत तिरुमंकाई अलवर की 16वीं सदी की कांस्य मूर्ति की वापसी के लिए भारतीय उच्चायोग के दावे का समर्थन किया। (Oxford University to return 500-year-old stolen bronze idol to India)

यह निर्णय अब अनुमोदन के लिए चैरिटी आयोग को प्रस्तुत किया जाएगा," यूनिवर्सिटी के एशमोलियन म्यूजियम की ओर से एक बयान में कहा गया। ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के एशमोलियन म्यूजियम ने 1967 में सोथबी के नीलामी घर से डॉ. जे.आर. बेलमोंट (1886-1981) नामक एक संग्रहकर्ता के संग्रह से संत तिरुमंकाई अलवर की 60 सेमी ऊंची मूर्ति हासिल की थी।

भारत सरकार ने कांस्य मूर्ति के लिए औपचारिक अनुरोध किया था, जिसके बारे में माना जाता है कि यह तमिलनाडु के एक मंदिर से चुराई गई थी और नीलामी के ज़रिए ब्रिटेन के एक संग्रहालय में पहुँच गई थी। संग्रहालय ने कहा कि उसने 1967 में “सद्भावना” के साथ मूर्ति हासिल की थी।

यह भी पढ़े-  नवी मुंबई- पत्नी से झगड़े के बाद शराबी पिता ने 5 महीने की बेटी की हत्या की

Read this story in English
संबंधित विषय
Advertisement
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें