25 दिसंबर को होंगे सिद्धि विनायक के गहने नीलाम

हर साल होती है नीलामी की परंपरा, अच्छे कार्यों में खर्च होते हैं नीलामी में मिले रूपये

SHARE

सिद्धि विनायक मंदिर मुंबई ही नहीं देश के सबसे फेमस मंदिरों में से एक है। कई भक्त अन्य राज्यों से भी बप्पा के दर्शन करने के लिए यहां आते हैं। बप्पा के भक्त के लिए एक खुशखबरी है कि बप्पा को चढ़ावे के रूप में चढ़ने वाले गहने को मंदिर न्यास समिति ने नीलाम करने का फैसला लिया है। कोई भी भक्त बोली ऊंची बोली लगाकर इस गहनों को बप्पा के प्रसाद के रूप में प्राप्त कर सकता है।

साल भर में चार बार होती है नीलामी

यह नीलामी मंदिर न्यास समिति द्वारा साल भर में चार बार की जाती है, हालांकि यह नीलामी दीपावली के दिन ही होनी थी लेकिन कुछ तकनीकी कारणों से यह नीलामी है हो सकी, इसीलिए अब समिती ने 25 दिसंबर को यह नीलामी करने का निर्णय लिया है। इस नीलामी में बप्पा की प्रतिमा, लॉकेट्स, अंगूठी, सोने की चैन, हार जैसे अन्य तमाम वस्तुए बिक्री के लिए रखी जाएगी।

कई साल से चली आ रही है परंपरा

यह नीलामी 25 दिसंबर को सुबह 11 से लेकर शाम 5 बजे तक चलेगी। यही नहीं नीलामी में रखे गए सारे गहनों की प्रदर्शनी सुबह 9 बजे से ही मंदिर परिसर में रख दिए जाएंगे। न्यास समिति पिछले कई सालों से नीलामी की इस परंपरा को निरंतर चला रहा है। भक्त भी इस नीलामी में बढ़चढ़ कर हिस्सा लेते हैं, आखिर कौन नहीं चाहेगा बप्पा के आशीर्वाद के रूप में प्रसाद उनके भी घर में आएं।

कल्याण हेतु खर्च की जाती है राशि

नीलामी में मिले पैसे को न्यास समिति गरीब बच्चों के स्वास्थ्य और शिक्षा उद्देश्य के लिए खर्च करती है। इस नीलामी के सभी अधिकारी मंदिर न्यास समिति के पास सुरक्षित है। न्यास समिति ने आशा जताई है कि हर बार की तरह इस बार भी भक्त इस नीलामी में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेंगे।









संबंधित विषय