इस जिद्द को सलाम

 Mumbai
इस जिद्द को सलाम

एक फिल्म का मशहुर डायलॉग है, की अगर आप किसी चीज को शिद्दत से चाहो तो पूरी कायनाथ आपको उससे मिलाने में जूट जाती है। कुछ इसी कहावत को सच कर दिखाया है मुंबई में रहनेवाले 55 वर्षिय अनंत पूरव ने। 2 हार्ट ब्लॉकेजेस के बाद भी उन्होने दक्षिण अफ्रिका में हुई 87 किलोमीटर कॉम्रेडस मॅरेथॉन अपने निर्धरित समय पर पूरी की।

कॉम्रेडस मॅरेथॉन दुनिया की सबसे पूरानी मौराथॉन है। 1921 में इस मैराथान स्पर्धा की शुरुआत की गई। दक्षिण अफ्रिका मेंडर्बन में पीटर्स मारीबर्ग के बीच इस मौराथॉन स्पर्धा का आयोजन किया गया। इस स्पर्धा में 60 देशो के प्रतिनिधी हिस्सा लेते है।
अनंत पूरव ने ये मौराथॉन 11 घंटे 55 मिनट में पूरी की। अनंत का दो साल पहले ही ऑपरेशन हुआ था। लेकिन बावजूद इसके उन्होने मैराथॉन में हिस्सा लेने की इच्छा जताई। अनंत का कहना है की कॉम्रेडस मॅरेथॉन में हिस्सा लेना मेरा सपना था। जिसे मैने अभी पूरा किया हैष पिछलें 5 सालों से मैं इस स्पर्धा के लिए तैयारी कर रहा था।

अनंत पुरव ने अपनी उम्र के 50वे पड़ाव पर दौड़ने की शुरुआत की। अनंत ने मुंबई मैरेथॉन, हैद्राबाद मैरेथॉन, दिल्ली मैरेथॉन, गोवा मॅरेथॉन, सातारा हिल मैरेथॉन भी पूरी की है।

डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दे) 

Loading Comments