मैराथन दौड़ पर खतरे के बादल

 Pali Hill
मैराथन दौड़ पर खतरे के बादल

मुंबई – मैराथन दौड़ को सिर्फ एक ही दिन बचा है लेकिन यह दौड़ खटाई में पड़ती नजर आ रही है। बीएमसी की तरफ से स्टैंडर्ड चार्टर्ड मुंबई मैराथन दौड़ के आयोजक प्रोकैम इन्टरनेशनल लिमिटेड को नोटिस भेजा गया है। यह नोटिस बीएमसी ने आयोजकों को 5 करोड़ 89 लाख बकाए रूपये को लेकर भेजा है। साथ ही यह चेतावनी भी दी गयी है कि अगर बकाया शुल्क जल्द नहीं भरे गये तो क़ानूनी कार्रवाई की जायेगी। मुंबई में हर साल स्टैंडर्ड चार्टर्ड मुंबई मैराथन दौड़ आयोजित की जाती है।

इस दौड़ की स्पॉन्सर स्टैंडर्ड चार्टर्ड सहित अन्य कई बड़ी-बड़ी कॉर्पोरेट कंपनियां भी होती हैं साथ ही इसमें बीएमसी का भी सहयोग होता था, इसीलिए अमूमन बीएमसी इस दौड़ के विज्ञापन का खर्च जैसे कई स्थानों पर बैनर-पोस्टर लगाना, सड़क पर कार्यक्रम आयोजित करना और साफ़ सफाई को लेकर मामूली चार्ज लगाती थी जिसकी लागत 20 या 22 लाख रूपये ही होता था। लेकिन पिछले 3-4 साल से किसी कारणवश बीएमसी ने इस कार्यक्रम से अपना हाथ खींच लिया है। अब बीएमसी मैराथन दौड़ की विज्ञापन के लिए भारी भरकम शुल्क वसूल रही है।

आयोजकों ने पहले 5 लाख 48 हजार रूपये का शुल्क भरा था लेकिन यह शुल्क विज्ञापन की कुल दर से बहुत कम था इसीलिए बीएमसी ने 5 करोड़ 89 लाख रूपये का अन्य शुल्क भी फिर से भेजा है। इस मामले में ‘ए’ विभाग के सहायक आयुक्त किरण दिघावकर ने बताया कि अगर यह शुल्क समय पर नहीं भरे गये तो नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। जब इस बकाए शुल्क की जानकारी आयोजकों को मिली तो उन्होंने शुल्क भरने में असमर्थता जताई।

Loading Comments