चलो तो कमाओ, एक किलोमीटर चलें और 10 रुपये कमाएं!

ईशान नाडकर्णी, निखिल खंडेलवाल, पीयूष नागले, अंकिता महेश्‍वरी, गौरव मेहरा और आकाश नौटियाल ने मिलकर एक अलग ऐप बनाया है। इस ऐप का नाम 'इम्पैक्ट रन' है।

SHARE

राजेश हर दिन 4 किलोमीटर दौड़ते है , जाहीर सी बात है की अपने स्वास्थ को लेकर काफी सजग रहते है। इसके अलावा वह एक दिन में 40 रुपये कमाते हैं। राजेश ही नहीं, उनके पिता भी 2 से 3 किलोमीटर तक प्रतिदिन 20 से 30 रुपये कमाते हैं। राजेश और और उनके पिता जैसे चलते भी है और पैसे भी कमाते है। सामाजिक प्रतिबद्धता को बनाए रखने का एक तरीका यह है कि वे स्वयं के स्वास्थ्य को बनाए रखने की पूरी कोशिश करें। आपभी चलते चलते चलते पैसे कमा सकते है , चलने के साथ साथ दौड़कर और साइकिल चलाकर भी मदद कर सकते हैं।

ईशान नाडकर्णी, निखिल खंडेलवाल, पीयूष नागले, अंकिता महेश्‍वरी, गौरव मेहरा और आकाश नौटियाल ने मिलकर एक अलग ऐप बनाया है। इस ऐप का नाम 'इम्पैक्ट रन' है। यह ऐप न केवल चलाने के लिए है, बल्कि आपके पास चल रहे सामाजिक कार्यों में मदद करने का भी अवसर देता है। कुछ किलोमीटर पैदल चलकर आप एक किसान, गरीब छात्र, जरूरतमंद मरीजों की मदद कर सकते हैं।इसके लिए आपको अपने जेब से एक पैसे भी खर्च करने की कोई जरुरत भी नहीं है।

कैसे काम करता है एप
आप इस ऐप को Google Play Store या Apple App Store से डाउनलोड कर सकते हैं। आप चलते, दौड़ते या साइकिल चलाते समय इस ऐप को शुरू कर सकते हैं। प्रत्येक किलोमीटर पूरा करने के बाद चलानेवाले के नाम पर 10 रुपये जमा किये जाते है। ये पैसे कुछ चुनिंदा संगठनों को फंड के रूप में दिए जाते हैं। आपको जहां पैसा देना है, वहां जाने की जरूरत नहीं है। आप चुन सकते हैं कि कौन से संगठन इस ऐप की मदद से दान कर सकते हैं। डेवलपमेंट बैंक ऑफ सिंगापुर, आरती इंडस्ट्रीज, केयर्न इंडिया, हिरोतोटोकॉर्प, वेलस्पन जैसी कंपनियों ने सीएसआर यानी कॉर्पोरेट सोशल रिस्पॉन्सिबिलिटी फंड से यह जिम्मेदारी ली है।

दान कहाँ किया जाता है?
अब तक, 40 लाख से अधिक लोगों ने सामाजिक प्रतिबद्धता को बनाए रखने के लिए इस ऐप का उपयोग किया है। इस राशि का उपयोग किसानों के परिवारों, शहीदों के परिवारों को वित्तीय सहायता प्रदान करने और स्कूल के छात्रों को खाना देने के लिए किया जाता है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें