‘दो-दो बस स्टॉप का क्या काम’?

बोरीवली - बोरीवली से चिपलूण की ओर जाने वाली एसटी बस प्लेटफॉर्म क्रमांक 1 पर रुकेगी, नहीं माफ करें प्लेटफॉर्म क्रमांक 2 पर रुकेगी, नहीं नहीं कहीं भी रुक सकती है। इस तरह का अनाउंसमेंट गोरेगांव स्थित एसवी रोड के बस स्टॉप पर होता है। इसकी वजह है एक स्टॉप पर दो-दो बस स्टैंड यात्रियों के लिए बनाए गए हैं। पहला स्टॉप उसके बाद कुछ ही फुट की दूरी पर दूसरा बनाया गया है।

एक बस स्टॉप का निर्माण मुंबई के पालकमंत्री व शिवसेना नेता सुभाष देसाई ने कराया था वहीं दूसरे का राज्यमंत्री व बीजेपी नेता विद्या ठाकूर ने कराया है। ये दोनों बस स्टॉप म्हाडा की निधी से बनाए गए हैं।

आखिरकार सवाल उठता है कि जहां एक बस स्टॉप से काम हो सकता था वहां दो दो बस स्टॉप क्यों? क्या जनता के पैसों का इनके लिए कोई मोल नहीं है? यात्रियों का कहना है कि जनता के पैसे को बर्बाद किया जा रहा है। दो-दो बस स्टॉप की क्या जरूरत है। उसकी बजाय अधिक बस चलाई जाएं तो लाभ होगा।

आपको बता दें कि यहां से बस की फ्रिक्वेन्सी भी बहुत कम है, फिर इतना ज्यादा पैसा क्यों बर्बाद किया गया?

इस पर स्थानीय शिवसेना के नगरसेवक राजू पाध्ये ने कहा है कि म्हाडा व एसटी महामंडल के द्वारा अधिकृत अनुमति के बाद विधायक सुभाष देसाई ने 30 साल पहले यात्रियों के लिए उन्होंने स्टॉप का निर्माण किया था। हमने इसके लिए कोई बैनरबाजी नहीं की पर बीजेपी राजनैतिक लाभ लेने के लिए इसे बनाकर बैनरबाजी कर रही है।

इस संबंध में विद्या ठाकुर से संपर्क करने की कोशिश की गई, पर उनसे संपर्क नहीं हो सका।

Loading Comments