लाइफ लाइन बनी डेथ लाइन, 12 दिन में 94 मौत

 Mumbai
लाइफ लाइन बनी डेथ लाइन, 12 दिन में 94 मौत

रेलवे द्वारा बार बार जनजागृति अभियान चलाए जाने के बाद भी रेलवे दुर्घटना की संख्या में कमी नहीं आ रही है। मुंबई की लाइफ लाइन कही जाने वाली रेलवे धीरे धीरे अब डेथ लाइन में बदलती जा रही है। रेलवे द्वारा जारी किये गये एक आंकडें के अनुसार पश्चिम, मध्य और हार्बर मार्गों में पिछले 12 दिनों में 94 यात्रियों की मौत हुई। जिसमें सबसे अधिक मौत 7 जून से लेकर 17 जून के बीच हुई हैं, जबकि 7 जून से लेकर 13 जून के बीच लगातार इन 7 दिनों में 10 से 13 यात्रियों की मौत विभिन्न-विभिन्न कारणों से हुई।


स्टेशन और दुर्घटनाओं की संख्या

(ग्राफिक्स-सुयोग घरात)  


विभिन्न रेलवे स्टेशनों पर घटी दुर्घटना में हुई यात्रियों की मौत 

(7 जून से 17 जून)

7 जून – 10 की मौत

8 जून – 13 की मौत

9 जून - 7 की मौत

10 जून - 6 की मौत

11 जून – 11 की मौत

12 जून – 7 की मौत

13 जून – 9 की मौत

14 जून - 9 की मौत

15 जून – 4 की मौत

16 जून – 7 की मौत

17 जून – 8 की मौत

18 जून – 3 की मौत


डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दे) 

 





Loading Comments