महिलाओं के लिए सड़कों पर 50 'तेजस्विनी'

भीड़भाड़ से भी बच सकेंगी महिलाएं

SHARE

बेस्ट को मुंबई की दूसरी लाइफ लाइन कहा जाता है। बेस्ट ने महिलाओं को सौगात देते हुए घोषणा की है कि महिलाओं के लिए सड़कों पर अब 'तेजस्विनी' बसें दौड़ेगी। इससे महिलाएं सुरक्षित तो रहेंगी ही साथ ही उन्हें भीड़भाड़ से भी मुक्ति मिलेगी। बेस्ट ने कुल 50 तेजस्विनी बसों को उतारने का निर्णय लिया है।

यह भी पढ़ें : फायर ब्रिगेड ने भर्ती किये 97 महिला फायरवुमेन !

तेजस्विनी बसें मुंबई के कुलाबा, कफ परेड, नरीमन पॉइंट, लोअर परेल, मालाड जैसे इलाकों में चलेंगी। इन बसों का लाभ मुख्य रूप से उन कामकाजी महिलाओं को मिलेगा जो अपने ऑफिस से रेलवे स्टेशन और रेलवे स्टेशन से उतर कर रिक्शा या फिर बेस्ट की अन्य बसों से अपने घर पहुंचती हैं।

यह भी पढ़ें : महिला सुरक्षा : सभी पब्लिक प्राइवेट ट्रांसपोर्ट वाहनों में पैनिक बटन होना अनिवार्य

यह बस पीक ऑवर में चलायी जाएंगी, इनका समय सुबह 7 से 11 तो शाम को 5 से 9 बजे तक होगा।

इस बारे में बेस्ट प्रशासन ने बताते हुए कहा कि जिन मार्गो पर व्यवसायिक केंद्र अधिक हैं वहां ये बसें चलायी जाएंगी। महिला सुरक्षा को देखते हुए इन बसों में महिला चालक और कंडक्टरों को नियुक्त किया जाएगा।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें