वर्सोवा-बांद्रा समुद्र लिंक को सरकार की मिली मंजूरी

सरकार ने इस परियोजना के लिए लगभग 7,502 करोड़ रुपये खर्च करने की योजना बनाई है।

SHARE

महाराष्ट्र सरकार ने सोमवार को वर्सोवा-बांद्रा समुद्र लिंक (वीबीएसएल) की परियोजना को मंजूरी दे दी है, आठ साल बाद इंफ्रास्ट्रक्चर पर स्टेट कैबिनेट समिति (एससीसीआई) ने इसे मंजूरी दे दी है। सरकार ने इस परियोजना के लिए लगभग 7,502 करोड़ रुपये खर्च करने की योजना बनाई है। और इसके साथ ही इस सी लिंक की लंबाई 17.17 किलोमीटर होगी।

सी लिंक पर पीयूसी के लिए खास मुहीम

8 साल का लगा समय

एससीआईआई ने 18 अगस्त 2009 को इस परियोजना को मंजूरी दे दी थी। जिसके बाद सरकार ने जनवरी, 2013 को इसे केंद्र सरकार के पास भेजा और केंद्र से तटीय विनियमन क्षेत्र (सीआरजेड) और पर्यावरण मंजूरी पाने के लिए चार साल का समय लग गया। सरकार ने समुद्र तट से 900 मीटर की ऊंचाई पर डिजाइन योजना को मंजूरी दे दी है।

नहीं बढ़ेगा मेट्रो का किराया !

क्या होगी सी लिंक की खासियत

वीबीएसएल के चार लेन के चारों तरफ पुल 9.60 किलोमीटर होगी। केबल पर आधारित पुल 0.30 किलोमीटर लंबा होगा और बैलेंस कैंटिलीवर ब्रिज 0.10 किमी लंबा होगा।इसके अलावा, वीबीएसएल के बांद्रा, ओटर क्लब, जुहू लिंक रोड और वर्सोवा लिंक रोड पर कनेक्टर्स होंगे। बांद्रा, कार्टर रोड, जुहू-कोलीवाडा और नाना-नानी पार्क में टोल प्लाजा होंगे।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें