रेलवे की लापरवाही से फिर गई एक और जान


SHARE

12 नवंबर यानी की रविवार को रेलवे की लापरवाही के कारण एक यात्री को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा। दरअसल समय के रहते इलाज ना मिलने के कारण इस युवक की मौत हो गई। मृतक अब्दुल गनी अंसारी (45) गोरखपुर के लिए एक ट्रेन में जाने के लिए एलटीटी पर लाइन में खड़ा था।अचानक उसे उल्टी होने लगी और वह बेहोश हो गया। अब्दुल गनी की हालत बिगड़ते देख पास ही मौजूद जीआरपी के अधिकारियों ने उसे राजावाडी अस्पताल में दाखिल कराया। हालांकी जब तक वह अस्पताल पहुंचता तब तक उनकी मौत हो गई थी।


अब रेलवे में किन्नरो को भी मिलेगा उनका हक !


रेलवे कर्मचारी और सामाजिक कार्यकर्ता अजय बोस का कहना है की 4 नवंबर को उन्होने एलटीटी में108 नंबर की एम्बुलेंस ना होने की शिकायत की थई, जिसपर किसी भी आला अधिकारी ने ध्यान नहीं दिया। अगर प्रशासन ने समय रहते इस ओर कुछ किया होता तो आज शख्स की जान बच सकती थी।इस बीच, 108 एम्बुलेंस के सीईओ ज्ञानेश्वर शेल्के ने मिड डे अखबार को बताय़ा की जैसे ही उन्हे फोन आया उन्होने तुरंत एंबूलेंस भेज दी, लेकिन कुछ समय बाद उन्हे फोन आया की एंबूलेंस भेजने की कोई जरुरत नहीं है।


संबंधित विषय